सैटेलाइट फोन क्या है? क्यों यह बहुत महंगा है?

सैटेलाइट फोन….. 'सैटेलाइट फोन को सेटफोन के नाम से भी जाना जाता है,ये हमारे फोन्स की तुलना में अलग होते हैं। क्योंकि यह लैंडलाइन या सेल्युलर टावरों की बजाय सैटेलाइट (उपग्रहों ) से सिग्नल प्राप्त करते हैं'। ( चित्र सैटेलाइटफोन ) इनकी खास बात यह होती है कि इनके द्वारा किसी भी स्थान से काॅल किया जा सकता है। यह हर जगह उपयोगी साबित होते हैं चाहे आप सहारा मरुस्थल में ही क्यों न हों। कहा तो यह भी जाता है कि यह पानी के अंदर भी आसानी से सिग्नल प्राप्त कर सकने में समर्थ होते हैं। सेटेलाइट फोन बस थोड़ा स्लो होते हैं (हमारे मोबाइल फोन के मुकाबले) यानी बातचीत के दौरान इसमें थोड़ी सी अड़चनों का सामना करना पड़ सकता है। क्योंकि इनके द्वारा भेजे गए सिग्लन को सेटेलाइट तक जाने और वहां से वापस लौट कर आने में ज्यादा समय लगता है।हालांकि यह कमी बहुत ही नगण्य है। यह ज्यादातर आपदाओं के समय हमे काफी सहायक सिद्ध होते जब हमारे सिस्टम बहुत हद तक ख़राब हो गये होते हैं। क्या हम सेटेलाइट फोन खरीद सकते हैं….. भारत में सैटेलाइट फोन खरीदने के लिए विशेष कानून बनाए गए हैं भारत ही नहीं हर देश में इसके लिए अलग…

दुनिया के सबसे ख़तरनाक जहर सायनाइड के बारे में कुछ दिलचस्प बातें ! Some interesting things about the world's most dangerous poison cyanide



सायनाइड जहर गैस और लवण के रुप में पाया जाता है। सायनाइड एक सफेद पाउडर के तरह होती है और बादाम की तरह कड़वी गंध होती है।
1- 1942 में नाजी सायनाइड गैस का उपयोग यातना शिविरों में कैदियों को मारने के लिए करते थे।
2-कीटनाशक के रूप में काफी प्रयोग होता है।
3-सायनाइट जहर पेट की अम्लता के साथ तेजी से क्रिया करता है इसलिए कई लोग आत्महत्या करने में ज्ञान इसका उपयोग करते हैं।
4-सायनाइड सिगरेट के धुएं और प्लास्टिक के जलने पर निकलती है।
5-साइनाइड गैस का उपयोग जहाजों और इमारतों में कीटों को नष्ट करने के लिए किया जाता है।
6-साइनाइड शरीर की कोशिकाओं को ऑक्सीजन का उपयोग करने से रोकता है। जब ऐसा होता है, तो कोशिकाएं मर जाती हैं।
7-साइनाइड अन्य अंगों की तुलना में हृदय और मस्तिष्क के लिए अधिक हानिकारक है क्योंकि हृदय और मस्तिष्क बहुत अधिक ऑक्सीजन का उपयोग करते हैं।
8-यदि आपको लगता है कि आप साइनाइड के संपर्क में आ गए हैं, तो आपको अपने कपड़ों को हटा देना चाहिए, अपने पूरे शरीर को तेजी से साबुन और पानी से धोना चाहिए, और जितनी जल्दी हो सके चिकित्सा देखभाल प्राप्त करना चाहिए।

Comments