सैटेलाइट फोन क्या है? क्यों यह बहुत महंगा है?

सैटेलाइट फोन….. 'सैटेलाइट फोन को सेटफोन के नाम से भी जाना जाता है,ये हमारे फोन्स की तुलना में अलग होते हैं। क्योंकि यह लैंडलाइन या सेल्युलर टावरों की बजाय सैटेलाइट (उपग्रहों ) से सिग्नल प्राप्त करते हैं'। ( चित्र सैटेलाइटफोन ) इनकी खास बात यह होती है कि इनके द्वारा किसी भी स्थान से काॅल किया जा सकता है। यह हर जगह उपयोगी साबित होते हैं चाहे आप सहारा मरुस्थल में ही क्यों न हों। कहा तो यह भी जाता है कि यह पानी के अंदर भी आसानी से सिग्नल प्राप्त कर सकने में समर्थ होते हैं। सेटेलाइट फोन बस थोड़ा स्लो होते हैं (हमारे मोबाइल फोन के मुकाबले) यानी बातचीत के दौरान इसमें थोड़ी सी अड़चनों का सामना करना पड़ सकता है। क्योंकि इनके द्वारा भेजे गए सिग्लन को सेटेलाइट तक जाने और वहां से वापस लौट कर आने में ज्यादा समय लगता है।हालांकि यह कमी बहुत ही नगण्य है। यह ज्यादातर आपदाओं के समय हमे काफी सहायक सिद्ध होते जब हमारे सिस्टम बहुत हद तक ख़राब हो गये होते हैं। क्या हम सेटेलाइट फोन खरीद सकते हैं….. भारत में सैटेलाइट फोन खरीदने के लिए विशेष कानून बनाए गए हैं भारत ही नहीं हर देश में इसके लिए अलग…

रूसी महिलाओं से जुड़ी रोचक और दिलचस्प जानकारी ! Interesting and interesting information related to Russian women



रूसी महिलाओं की सुंदरता रूस के राष्ट्रीय धन का एक हिस्सा है।
आइए हम रूसी महिलाओं के बारे में कुछ दिलचस्प तथ्यों पर एक नज़र डालते हैं जो रूसी महिलाओं की घटना के रहस्य को जानने की कोशिश करते हैं।
1. रूस में, महिलाएं दस मिलियन पुरुषों की संख्या से अधिक हैं।
2 रूसी सेना में लगभग 50,000 महिलाएँ काम करती हैं।
3 रूसी महिलाओं का औसत कद 168 सेमी है और उनका औसत वजन 69 किलो है।
4. रूस में, विवाहित महिलाएं कभी भी ब्रा नहीं पहनती हैं। शादीशुदा महिलाएं अपने कपड़ों पर अलग-अलग हेयर स्टाइल, अलग-अलग टोपी, झुमके, स्कर्ट और अलग-अलग गहने पहनेंगी।
5. रूस में, तलाक के 95 प्रतिशत मामलों में बच्चा मां के साथ रहता है।
6. आधी से ज्यादा रूसी महिलायें अपने बालों को डाई करती हैं।
7. सोवियत संघ ने 1955 में गर्भपात को वैध कर दिया और गर्भपात की संख्या तेजी से बढ़ने लगी। 1964 तक, गर्भपात का 5.46 मिलियन रिकॉर्ड संख्या तक पहुंच गया था।

Comments