आप ऐसा क्या जानते हैं जो किसी को नहीं पता ! What do you know that nobody knows?

Abhijit Nimse,
1. चीनी को जब चोट पर लगाया जाता है, दर्द तुरंत कम हो जाता है। 2. जरूरत से ज्यादा टेंशन आपके दिमाग को कुछ समय के लिए बंद कर सकती हैं। 3. 92% लोग सिर्फ हस देते हैं जब उन्हे सामने वाले की बात समझ नही आती। 4. बतक अपने आधे दिमाग को सुला सकती हैंजबकि उनका आधा दिमाग जगा रहता। 5. कोई भी अपने आप को सांस रोककर नही मार सकता। 6. स्टडी के अनुसार : होशियार लोग ज्यादा तर अपने आप से बातें करते हैं। 7. सुबह एक कप चाय की बजाए एक गिलास ठंडा पानी आपकी नींद जल्दी खोल देता है। 8. जुराब पहन कर सोने वाले लोग रात को बहुत कम बार जागते हैं या बिल्कुल नही जागते। 9. फेसबुक बनाने वाले मार्क जुकरबर्ग के पास कोई कालेज डिगरी नही है। 10. आपका दिमाग एक भी चेहरा अपने आप नही बना सकता आप जो भी चेहरे सपनों में देखते हैं वो जिदंगी में कभी ना कभी आपके द्वारा देखे जा चुके होते हैं। 11. अगर कोई आप की तरफ घूर रहा हो तो आप को खुद एहसास हो जाता है चाहे आप नींद में ही क्यों ना हो। 12. दुनिया में सबसे ज्यादा प्रयोग किया जाने वाला पासवर्ड 123456 है। 13. 85% लोग सोने से पहले वो सब सोचते हैं जो वो अपनी जिंदगी में करन…

अमेरिका के राष्ट्रपति भवन को व्हाइट हाउस क्यों कहा जाता है ! Why is the President of America called the White House?



अमेरिकी राष्ट्रपति थियोडोर रूजवेल्ट ने 1901 इस इमारत को व्हाइट हाउस का नाम दिया. और भी कई उपनाम है प्रेसिडेंट पैलेस, राष्ट्रपति भवन और कार्यकारी हवेली है.
व्हाइट हाउस के बाहरी दीवारों को पेंट करने के लिए 570 गैलन रंग की जरूरत पड़ती है।सन् 1994 में पेंट का खर्च 2,83,000 डॉलर यानी एक करोड़ 72 लाख रुपए से ज्यादा था। व्हाइट हाउस में आज भी वही पत्थर की दीवारें हैं, जो राष्ट्रपति थॉमस जेफरसन के तहत बनवाई गई थीं।
व्हाइट हाउस की नींव अक्टूबर 1792 में रखी गयी थी. और इसका डिज़ाइन अमेरिकी आर्किटेक्ट जेम्स होबन ने किया था. और इसको बनाने में 8 साल का समय लगा।
वाइट हाउस को 18 एकड़ जमीन में बनाया गया है एंव कुल 55000 वर्ग फीट के एरिया में बनाया गया है और धरती से इसकी ऊंचाई 70 फीट है जबकि गहराई 85 फिट है और 170 फुट चौड़ाई है
व्हाइट हाउस में राष्ट्रपति और प्रथम महिला को उनके भोजन, प्रसाधन, ड्राई क्लीनिंग सहित अन्य सभी चीजों के लिए भुगतान करना पड़ता है।

Comments