सैटेलाइट फोन क्या है? क्यों यह बहुत महंगा है?

सैटेलाइट फोन….. 'सैटेलाइट फोन को सेटफोन के नाम से भी जाना जाता है,ये हमारे फोन्स की तुलना में अलग होते हैं। क्योंकि यह लैंडलाइन या सेल्युलर टावरों की बजाय सैटेलाइट (उपग्रहों ) से सिग्नल प्राप्त करते हैं'। ( चित्र सैटेलाइटफोन ) इनकी खास बात यह होती है कि इनके द्वारा किसी भी स्थान से काॅल किया जा सकता है। यह हर जगह उपयोगी साबित होते हैं चाहे आप सहारा मरुस्थल में ही क्यों न हों। कहा तो यह भी जाता है कि यह पानी के अंदर भी आसानी से सिग्नल प्राप्त कर सकने में समर्थ होते हैं। सेटेलाइट फोन बस थोड़ा स्लो होते हैं (हमारे मोबाइल फोन के मुकाबले) यानी बातचीत के दौरान इसमें थोड़ी सी अड़चनों का सामना करना पड़ सकता है। क्योंकि इनके द्वारा भेजे गए सिग्लन को सेटेलाइट तक जाने और वहां से वापस लौट कर आने में ज्यादा समय लगता है।हालांकि यह कमी बहुत ही नगण्य है। यह ज्यादातर आपदाओं के समय हमे काफी सहायक सिद्ध होते जब हमारे सिस्टम बहुत हद तक ख़राब हो गये होते हैं। क्या हम सेटेलाइट फोन खरीद सकते हैं….. भारत में सैटेलाइट फोन खरीदने के लिए विशेष कानून बनाए गए हैं भारत ही नहीं हर देश में इसके लिए अलग…

पृथ्वी के बारे में कुछ रोचक तथ्य क्या है?


तो आइये बात करते है धरती के बारे मे कुछ रोचक तथ्यो के बारे मे:-


  • पृथ्वी को कभी ब्रह्मांड का केंद्र माना जाता था। 2000 वर्षों तक प्राचीन खगोलविदों का मानना ​​था कि पृथ्वी स्थिर थी और इसके चारों ओर गोलाकार कक्षाओं में यात्रा करने वाले अन्य खगोलीय पिंड थे। उनका मानना ​​था कि सूर्य और ग्रहों पर उनके दृष्टिकोण के संबंध में स्पष्ट आंदोलन के कारण। 1543 में, कोपर्निकस ने सौर मंडल के अपने सूर्य-केंद्रित मॉडल को प्रकाशित किया जिसने सूर्य को हमारे सौर पृथ्वी मंडल के केंद्र में रखा।
  • यह एकमात्र ऐसा ग्रह भी है जिसका नाम किसी ग्रीक या रोमन देवता के नाम पर नहीं है। बृहस्पति का नाम रोमन देवताओं के राजा और यूरेनस का नाम आकाश के ग्रीक देवता के नाम पर रखा गया है। पृथ्वी का नाम अंग्रेजी / जर्मन से आया है, जिसका अर्थ है भू
  • सौरमंडल में पृथ्वी भी एकमात्र स्थान है जहाँ पानी तीनों अवस्थाओं - ठोस, तरल और गैस में मौजूद हो सकता है।
  • आंतरिक निकेल-आयरन कोर की उपस्थिति के कारण, पृथ्वी के पास एक मजबूत चुंबकीय क्षेत्र है। यह चुंबकीय क्षेत्र पृथ्वी पर भारी सौर हवाओं को बहने से रोकने और विभिन्न जीवन रूपों को नुकसान पहुंचाने के लिए भी जिम्मेदार है।
  • पृथ्वी पर तरल चरण में पानी का अस्तित्व पृथ्वी पर मौजूद तापमान अवधि के कारण है: 0 - 100 डिग्री सेल्सियस। पानी 100 डिग्री सेल्सियस पर उबलता है, इस प्रकार इसे गैस में परिवर्तित करता है और इसे मनुष्यों, जानवरों और पक्षियों आदि सहित जीवित प्राणियों द्वारा खपत के लिए अनुपयोगी बना देता है ...
  • असल मे हमारी पृथ्वी पूरी तरह से घोल नही है, इसका आकार थोडा टेढ़ा-मेढ़ा है। पृथ्वी के घुमाव के कारण यह हमे गोल दिखाई देती है।
  • पृथ्वी का 40% हिस्सा पृथ्वी के सिर्फ़ 6 देशो ने घेर रखा है।
  • वह चंद्रमा पृथ्वी पर सूर्य के प्रकाश को दर्शाता है जब सूर्य पृथ्वी के दूसरी ओर होता है जब ग्रह के एक तरफ रात होती है।
  • हमारी पृथ्वी पूरे ब्रम्हांड मे अकेला एक ऐसा ग्रह है, जिसमे जीवन सम्भव है।
  • हमारी पृथ्वी मे इतना सोना है कि यदि इस पुरे सोने को निकाल लिया जाए तो धरती पर 1.5 feet की सोने की परत बन सकती है।
  • सौरमण्डल मे सबसे चमकीला ग्रह शुक्र नही बल्कि पृथ्वी है, अन्तरिक्श यात्रियो ने पाया की दूर से सभी ग्रहो को देखने से सबसे ज्यादा पृथ्वी चमकती है।
  • क्या आपको पत्ता है 2015 का साल पृथ्वी पर सभी वर्षो के मुकाबले एक सैकेण्ड लम्बा चला था।
  • 'की घुर्णन गती हर साल कम हो रही है, इसका कारण यह है कि चन्द्रमा हर साल पृथ्वी से चार सेण्टिमीटर दूर जा रहा है।
  • हमारी पृथ्वी की घुर्णन गती 30KM/S है, यानि जब तक आपने यह वाक्य दोहाराया तब तक धरती सैकण्डो किलोमीटर दुरी तय कर चुकी है।
  • पृथ्वी एकमात्र ऐसा ग्रह है जिसका नाम पौराणिक देवता या देवी नहीं है।
  • पृथ्वी का जीवनकाल 4.54 BILLION YEAR(454 करोड वर्ष) है, रेडियोमेट्रिक डेटिंग विधी से यह प्रमाणीकरण किया गया है।
  • पृथ्वी का सामान्य तापमान 16 डिग्रीC है।
  • क्या आपको पत्ता है, पृथ्वी सौरमंडल का सबसे घना ग्रह है।
  • पृथ्वी का वायुमंडल 78% नाइट्रोजन, 21% ऑक्सीजन, और आर्गन और कार्बन डाइऑक्साइड सहित अन्य गैसों का पता लगाने से बना है।
  • पृथ्वी के सभी आठ ग्रहों की सबसे अधिक गोलाकार कक्षाओं में से एक है।
  • अंतरिक्ष से पृथ्वी की पहली तस्वीर 1946 में ली गई है।
  • अपने एक्सिस पर पृथ्वी के घूमने में 24 घंटे नहीं लगते हैं, यह वास्तव में लगभग 23 घंटे, 56 मिनट और 4 सेकंड लेता है।
  • सूर्य और चंद्रमा आकाश में एक ही आकार के दिखाई देते हैं।
  • पृथ्वी के आकाश में नग्न आंखों वाले 2,500-4,000 सितारे देख सकते हैं।
  • पृथ्वी की कक्षा एक दीर्घवृत्त है।
  • पृथ्वी की धुरी झुकी हुई है।
  • हमारा चंद्रमा प्लूटो से बड़ा है।

Comments