महिलाएं पुरुषों के किन अंगों को देखकर आकर्षित होती हैं ! Which parts of men are attracted by women?

मनोज लालवानी (Manoj Lalwani),


बात महिलाओं की पसन्द की है तो बहुत सारे विकल्प होने ज़रूरी हो जाते हैं। क्योंकि चुनने के लिए कम विकल्प होने से अधिकांश महिलाएँ तनाव में आ जाती हैं। यह विकल्प, सौभाग्यवश, बहुतेरे और सशरीर मौजूद हैं। अगर पुरुष के अंगों का ज़िक्र होगा तो उनका शरीर अपने आप आएगा। सबसे पहले बात करते हैं पुरुष शरीर की। मगर उस से पहले बात करनी पड़ेगी महिला की चाह की। क्योंकि महिला की चाह पुरुष का विशेष अंग नहीं होता, बल्कि उनका अंग प्रत्यंग होता है। और सिर्फ़ अंग प्रत्यंग ही नहीं, उसके साथ ना जाने कितने और रंग ज़रूरी हैं। तो बात करते हैं पुरुषों के इन्हीं अंग-प्रत्यंग, रंग-ढंग की महिलायें, पुरुष की उस चीज़ की तरफ़ सबसे ज़्यादा खिंचाव महसूस करती हैं, जिस चीज़ की वो ख़ुद में कमी पाती हैं। वैसे यह सिद्धान्त हम सभी पर लागू होता है “हम उसी और खिंचे चले जाते हैं, जिस की हम ख़ुद के जीवन में कमी पाते हैं।” चूँकि बात यहाँ महिलाओं की है तो हम उन्ही की बात करते हैं। सबसे पहली कमी जो लगभग हर महिला को पुरुष की तुलना में खलती है। वो है “क़द” महिलाएँ ख़ुद से लम्बे पुरुषों की तरफ़ आकर्षित होती ह…

कुत्ते कारों का पीछा क्यों करते हैं ! Why do dogs pursue cars

1) कुत्तों का ज्वलनशील स्वभाव:
आपने बहुत सी फिल्मों में ये डायलॉग सुना होंगा, इलाका कुत्तों का होता हैं शेरों का नहीं!!
पहला कारण यहीं हैं कुत्तों का चलती गाड़ी के पीछे-पीछे भागने का।
दरअसल कुत्ते अपने एरिया को लेकर काफी पोसेसिव होतें हैं।वो पेड़ों, गाड़ियों के टायरों इत्यादि में यूरीन सीक्रिट कर के ये सुनिश्चित करतें हैं कि ये उन्हीं का एरिया हैं, चूंकि नाक के तेज़ होते हैं इसलिए कोई शक नहीं की वो अपने एरिया को पहचानते भी हैं और अगर कोई आएं तो उसे बाहर का रास्ता भी दिखाते हैं। और आपकी यहाँ आने की मनाही हैं, तो शायद गलत नहीं होगा!!!
पर जब किसी कुत्ते को किसी गाड़ी के टायर पर किसी दूसरें कुत्ते की यूरीन समझ़ आती हैं, जो तेज़ नाक के धनी कुत्ते के लिए काफ़ी आसान होता हैं पहचाना, और खास़कर तब जब गाड़ी तेज़ी से जा रही हों, तब एक एरिया के प्रति लगाव समझते हुए वो उस गाड़ी के पीछे दौड़ लगाता हैं, वर्चस्व और एरिया पर कंट्रोल शायद इसे ही कहते हैं और इससे अच्छा उदाहरण भी नहीं कोई।
2) भूखा होना:
माना जाता हैं जब एक कुत्ता काफ़ी भूखा हो तो तब भी वो चलती गाड़ी का पीछा करता हैं।
3) जब किसी कुत्ते की मौत गाड़ी के नीचें आने से होती हैं:
कुत्ता एक बेहद ही संवेदनशील जानवर होता हैं और दोस्ती निभाना जानता हैं, इस कारण जब भी कोई ऐसी गाड़ी जिस पर किसी कुत्ते को वो मह़क समझ़ आती हैं, वो तुरंत उस गाड़ी के पीछे हो लेता हैं और दूर तक दौड़कर अपने अंजान साथी के प्रति अपनी वफ़ादारी निभाता हैं।
4) अकेलापन:
थोड़ी हैरानी वाला बात हैं पर जी हां कुत्तों को भी अकेलापन महसूस होता हैं।और जब ये अकेलापन ज्यादा गंभीर रूप से बाहर समझ़ आता हैं तब वो चलतीं गाड़ी का पीछा करते हैं।

Comments