आखिर क्यों मच्छर झुंड में सिर पर मंडराते हैं ! Why the mosquitoes roam on the head

अभिषेक सिंह (Abhishek Singh)
ऐसा हमने जरूर बचपन मे देखा होगा और सोचा भी होगा की आखिर क्यों ऐसा मेरे साथ हो रहा है। सबसे अजीब बात ये की उस जगह से भागने पर भी वापस सिर पर मंडराने लगते थे। लेकिन शायद ही अब कोई ध्यान देता हो, मगर ऐसा अभी भी होता ही हैं कि मच्छर आपके सिर पर कई बार मंडराते हैं। ऐसी आदत न केवल मच्छरों है कि होती है बल्कि अन्य मक्खियों और कीड़े भी ऐसा करते हैं। इसके कई कारण हो सकते हैं। यदि यह मादा मच्छर है, तो यह आपके सिर पर मंडराती है क्योंकि यह कार्बन डाइऑक्साइड और अन्य पदार्थों (पसीना, गंध और गर्मी सहित) में रुचि रखता है जिसे आप लगातार निकालतेे हैं। उनके एंटीना पर सेंसर लगे होते हैं जो इन चीजों का पता लगाते हैं और भोजन के स्रोत का पता लगाने में उनकी मदद करते हैं। मच्छर विशेष रूप से ऑक्टेनॉल (मानव पसीने में पाया जाने वाला एक रसायन) के शौकीन हैं, इसलिए यदि आपको बहुत पसीना आ रहा होता हैं, तो आप इनके आसान लक्ष्य बन जाते हैं। कभी-कभी, आपने देखा होगा कि बगीचे में अपने दोस्तों से बात करते समय, मच्छरों का झुंड विशेष रूप से आपके सिर के ऊपर मंडरा रहा होता है और दूसरो…

सबसे घातक और जानलेवा रोग कौन सा है ! Which is the most deadly and deadly disease



दुनिया मे कई रोग है जिनसे सिर्फ कुछ मिनट से 24 घंटे के अंदर किसी की डेथ हो सकती है…मैं सिर्फ ऐसे रोगों के बारे में लिखने जा रहा जिससे वर्ल्ड लेवल..बड़े पैमाने पे मानव जीवन को नुकसान किया हो (ना कि ऐसे जिनके सिर्फ 2–4 केस हो)… मैं बताता हूँ कुछ ऐसे हो रोगों के बारे में..
1◆मेनिनजाइटिस(Meningitis)-****
ये बैक्टीरियल या वायरल इन्फेक्शन के द्वारा होता है…इससे ब्रेन और स्पाइनल कॉर्ड को कवर करने वाले लेयर में डैमेज हो जाता है..मुख्य रूप से ये बच्चों में ज्यादा होता है..ब्लड में पाइजन इत्ती तेज़ी से फैलता है कि अधिकतर केस में 2–4 घंटे में डेथ कन्फर्म है!!
2◆इबोला(EBOLA)- *****
अगर आप गूगल पे खोजेंगे तो शायद अधिकतर जगह इसी को सबसे खतरनाक बताया जाएगा ..इसमे मुख्य रूप से क्या होता है कि जिसको ये वायरस इन्फेक्ट करता है उसके अंदर के ऑर्गन से ब्लीडिंग होने लगती है ब्लीडिंग का अनकंट्रोल होना आप समझ ही सकते है कितनी खतरनाक चीज़ है..90% तक डेथ रेट!!….मुख्य रूप से अफ्रीकन कन्ट्री में इसका एफेक्ट है ..उम्मीद है जल्द ही इसका एन्टी डोज़ आ जायेगा!
(इबोला)
◆3.बलबोनिक प्लग-******
1400 ईस्वी के आसपास यूरोप में फैले इस रोग से करीब 5 करोड़ लोगों की कुछ दिन के अंदर डेथ हो गयी थी..यूरोप की आधी पापुलेशन खत्म हो गयी थी। वैसे अब प्लग को काफी हद तक कंट्रोल किया जा चुका है ..लेकिन अभी भी अगर एन्टी बायोटिक ट्रीटमेंट 2–3 दिन के अंदर नही दिया गया तो डेथ कन्फर्म है।।!
4◆.स्माल पॉक्स- ********
रिसर्च में तो कहते है 10000 ईसा पूर्व भी इस रोग के ट्रेस मिलते है..
वैसे तो इसका अंतिम केस 1977 में सोमालिया में देखा गया था ..लेकिन जब ये था तो सबसे खतरनाक रोगों में से एक था..
उस समय स्माल पॉक्स होन्स पर मृत्यु दर वयस्क में 45% और बच्चों में 90% थी!!
वैक्सिनेशन का इससे अच्छा उदाहरण शायद ही कही दिखे!!
लिस्ट बहुत लंबी है..पोलियो.. एड्स..COPD.. इन्फ्लुएंजा.स्ट्रोक...और ना जाने कितनी बीमारिया है जिन्होंने बहुत बड़े लेवल पे लोगो को एफेक्ट किया है..इनमे से कुछ का कोई ट्रीटमेंट नही..बस उम्मीद है मेडिकल साइंस जल्द ही इनका भी उपचार खोज ही लेगा..

Comments