कंडोम के कुछ मज़ेदार उपयोग

जितेन्द्र प्रताप सिंह (Jitendra Pratap Singh)
कुछ साल पहले उत्तर प्रदेश का स्वास्थ्य विभाग बहुत खुश हुआ जब बनारस के बुनकरों में मुफ्त में बांटे जाने वाले कंडोम की मांग खूब बढ़ गई। स्वास्थ्य विभाग यह सोच रहा था कंडोम बांटने से बुनकरों के जनसंख्या वृद्धि रुकेगी और कंडोम का सही इस्तेमाल होगा लेकिन जब पता चला कि बनारसी साड़ी बनाने वाले बुनकर मुफ्त में मिलने वाले कंडोम का इस्तेमाल साड़ी बनाने में कर रहे हैं तब ना सिर्फ उत्तर प्रदेश का स्वास्थ्य विभाग बल्कि पूरी दुनिया चौक उठी थी साड़ी बनाने वाले बुनकर कंडोम का इस्तेमाल अपने करघा पर करते हैं. साड़ियाँ तैयार करने में इस्तेमाल हो रहे हैं कंडोम दरअसल कंडोम में चिकनाई युक्त पदार्थ होता है और करघा पर लगाने से उसके धागे तेज़ी से चलते हैं और उनमें चमक भी आ जाती है. क्योंकि कंडोम में प्राकृतिक रबड़ यानी लैक्टेस होता है इसलिए बुनकर बुनाई के पहले धागों को कंडोम से खूब रगड़ देते हैं जिससे धागे में इतनी अच्छी चिकनाई आ जाती है इस साड़ी की बुनाई करते समय धागा फसता नहीं है और बुनाई तेजी से होता है और साड़ियों में बहुत अच्छी प्राकृतिक चमक आ जात…

कुछ मनोवैज्ञानिक तथ्य क्या हैं जिन्हें लोग नहीं जानते हैं ! Some psychological facts that people do not know

कुछ मनोवैज्ञानिक तथ्य क्या हैं जिन्हें लोग नहीं जानते हैं



अपने पसंदीदा गाने को कभी भी अलार्म की घंटी मत बनाइएँ, नही तो आपको उससे नफरत होने लगेगी.

टेडी बियर को छूने से इंसान कम अकेला महसूस करता है

हफ्ते में एक दिन आलसी होना आपकी टेंशन और ब्लड प्रेशर को कम करता है.

खुद की तुलना किसी दूसरे से करना, दुखी होने और टेंशन लेने की मुख्य जड़ है.

यदि आप एक बार किसी को नापसंद करने लगते हो तो वह जो कुछ भी करता है वह आपको परेशान करने लगता है.

आप जितने बूढ़े होते जाओगे, आपका लोगो पर विश्वास उतना कम होता जाएगा.

कोई भी इंसान प्यार में पड़ने से नही डरता, बल्कि इससे डरता है कि कही गलत आदमी के प्यार में ना पड़ जाऊँ.

यदि आप कोई बात छिपाना चाहते हो तो किसी एक इंसान को भी मत बताना क्योंकि जब आप खुद उसे अपने तक नही रख सके तो किसी दूसरे पर कैसे उम्मीद कर सकते हो.

• अगर आप चाहते है के कोई आपको सुने, तो अपनी बातचीत इससे शुरू करें 'मुझे आपको यह नहीं बताना चाहिए'।


मनोवैज्ञानिकों के मुत़ाबिक, पहला Impression 7 सेकंड में ही बन जाता है.

महिलाएं इस बात से अधिक प्रभावित होती हैं कि एक आदमी से कैसी बू आती है,ना कि वो कैसा दिखता है ... पुरुष महिलाओं की सुगंध अच्छे से चुनते हैं।

यह जानने के लिए कि क्या कोई व्यक्ति आपसे बातचीत में दिलचस्पी रखता है, अपनी बाहों को मोड़ें। अगर वे वही करते हैं तो वे दिलचस्पी रखते हैं।
सुंदर महिला की उपस्थिति पुरुषों में बेवकूफ व्यवहार को उत्तेजित करती है।


अकेलेपन की feeling तब नही आती जब इंसान अकेला होता है बल्कि तब आती है जब कोई उसकी care नही करता। यदि आप एक बार किसी के प्यार में पड़ गए तो वापिस उसके फ्रेंड नही बन सकतें। यदि आपसे कोई पेन मांगे तो उसकी ढक्कन हमेशा अपने पास रखें क्योंकि बिना ढक्कन के पेन को लोग बहुत कम अपनी जेब में डालते है।
जब आप बिना किसी वजह के अचानक से निराश हो जाते हो तो उस समय आप किसी को मिस कर रहे होते हो लेकिन आपको खुद इसका पता नही होता।
जो लोग बहुत जल्दी पक्के दोस्त बन जाते है उनसे थोड़ा बचना चाहिए क्योंकि इनमें से अधिकत्तर ड्रामेबाज़ होते है।

किसी का कॉल उठाने से पहले थोड़ा सा मुस्कुरा लेना आपकी आवाज को अच्छा बनाता है।
किसी से जलन भावना रखना हमारे इम्यून सिस्टम को कमजोर बनाता है।

ईमानदार होने से ज्यादा दोस्त नही बनते लेकिन जो बनता है वो पक्का होता है।

यदि कोई इंसान आपके लिए समय निकालकर फ्री में काम कर रहा है तो उसे कभी भी  जल्दी करो नही कहना चाहिए।

एक आदमी औसतन इन तीन चीजों की वजह से आपसे जलता है: 1) वह आप जैसा बनना चाहता है। 2) या वह खुद से नफरत करता है। 3) या फिर वह आपको एक खतरे के रूप में देखता है।

मन में छुपाई गई भावना कभी खत्म नही होती, यह कुछ समय के लिए दूर हो सकती है लेकिन जब दोबारा आएगी तो और ज्यादा दर्द के साथ आएगी।

लोग आपको इस बात से याद नही रखते कि आपने उनसे क्या कहा, बल्कि इससे याद रखते है कि आपने उन्हें कैसा महसूस कराया।

यदि आप बात करते-करते अपने दोस्त को बैग सौंपते हो तो ज्यादातर लोग बिना सोचे बैग ले लेते है।

आप जो कपड़े पहनते हैं उनका सीधा असर आपके मूड पर होता हैं इसलिए अच्छे कपड़े पहनो और ज्यादा खुश रहो.

जो लोग बहुत अधिक कसम खातें हैं, उनकी दोस्ती सच्ची और ईमानदार होती हैं
आप जिस व्यक्ति से जितनी अधिक बात करते हैं उसके साथ में पड़ने की संभावना उतनी ही ज्यादा हो जाती हैं.

जो लोग परवाह नहीं करने का नाटक करते हैं, वो सबसे अधिक परवाह करते हैं.

80% लोग Music सिर्फ नकरात्मक विचारों से छुटकारा पाने के लिए सुनते हैं
अगर कोई छोटी-छोटी बात पर गुस्सा हो जाता हैं, इसका मतलब उसे आपके साथ और प्यार की जरूरत हैं।

Comments