कंडोम के कुछ मज़ेदार उपयोग

जितेन्द्र प्रताप सिंह (Jitendra Pratap Singh)
कुछ साल पहले उत्तर प्रदेश का स्वास्थ्य विभाग बहुत खुश हुआ जब बनारस के बुनकरों में मुफ्त में बांटे जाने वाले कंडोम की मांग खूब बढ़ गई। स्वास्थ्य विभाग यह सोच रहा था कंडोम बांटने से बुनकरों के जनसंख्या वृद्धि रुकेगी और कंडोम का सही इस्तेमाल होगा लेकिन जब पता चला कि बनारसी साड़ी बनाने वाले बुनकर मुफ्त में मिलने वाले कंडोम का इस्तेमाल साड़ी बनाने में कर रहे हैं तब ना सिर्फ उत्तर प्रदेश का स्वास्थ्य विभाग बल्कि पूरी दुनिया चौक उठी थी साड़ी बनाने वाले बुनकर कंडोम का इस्तेमाल अपने करघा पर करते हैं. साड़ियाँ तैयार करने में इस्तेमाल हो रहे हैं कंडोम दरअसल कंडोम में चिकनाई युक्त पदार्थ होता है और करघा पर लगाने से उसके धागे तेज़ी से चलते हैं और उनमें चमक भी आ जाती है. क्योंकि कंडोम में प्राकृतिक रबड़ यानी लैक्टेस होता है इसलिए बुनकर बुनाई के पहले धागों को कंडोम से खूब रगड़ देते हैं जिससे धागे में इतनी अच्छी चिकनाई आ जाती है इस साड़ी की बुनाई करते समय धागा फसता नहीं है और बुनाई तेजी से होता है और साड़ियों में बहुत अच्छी प्राकृतिक चमक आ जात…

Interesting Facts About Sex ! सेक्स से संबंधी रोचक तथ्य

सेक्स से संबंधी रोचक तथ्य

हमारे समाज में सेक्स को लेकर लोगों में कई तरह की भ्रांतियां फैली हुईं हैं जिसकी मुख्य वजह है इस मुद्दे पर बात नहीं करना। कई बार लोग संकोच व शर्म के कारण इस बारे में बात करने से कतराते हैं। जिसकी वजह से वे अधूरी व गलत जानकारियों के कारण परेशानी में भी फंस जाते हैं।

sex sambandhi rochak tathyaसेक्स एक ऐसा विषय है जिसके बारे में लोग ज्यादा से ज्यादा पढ़ना तो चाहते हैं लेकिन बात करने से कतराते है। नतीजन वे पूरी जानकारी ना पाकर अपने पास आधी-अधूरी जानकारी रखते हैं। लिहाजा सेक्स से जुडे आश्चर्यजनक तथ्यों को जानने से आप वंचित रह जाते हैं। यह सही है कि सेक्स को रोचक बनाना चाहिए लेकिन सुरक्षित सेक्स करना भी बहुत जरूरी है। सेक्स से जुड़े कई मिथ लोगों के मन रहते हैं जिस कारण वे सेक्स को रोचक बनाने से चूक जाते हैं। सेक्स का सबसे रोचक तथ्य क्या है। सेक्स को रोचक बनाने के लिए क्या करें, क्या ना करें। आइए जानें सेक्स से संबंधी रोचक तथ्यों के बारे में।



  • अगर आप बेड पर कैलोरी बर्न करना चाहते हैं तो सेक्स से अच्छा तरीका नहीं हो सकता है। अच्छे तरीके से नियमित रुप से आधे घंटे तक किए गए सेक्स से 150 कैलोरी बर्न की जा सकती है। इस तरह आप एक साल में दो किलो वजन कम कर सकते हैं अगर आप एक महीने में सात-आठ बार सेक्स करते हैं। लेकिन ध्यान रहें कि यह सश्क्त तरीके से होना चाहिए ।  
  • बहुत अधिक सेक्स के बारे में सोचने या इस तरह की पिक्चर्स देखने से पुरूष में किसी भी तरह से कोई मानसिक बदलाव नहीं होता क्योंकि पुरूषों का ऐसा मानना होता है कि कल्पनाओं और वास्तविकता में बहुत फर्क होता है। यही बात शोधों में भी साबित हो चुकी है।


  • कभी भी खाना खाने के बाद सेक्स नहीं करना चाहिए क्योंकि आप इसे एंन्जॉय नहीं कर पाएंगे। आमतौर पर ऐसा होता है कि पेट भरा होने के कारण आपको सेक्स के दौरान डकार आने लगती है जिससे सेक्स करने में मजा नहीं आ पाता है।
  • नवविवाहित दं‍पति अकसर अपने सेक्स जीवन को लेकर चितिंत रहते हैं,जिसका नकारात्मक प्रभाव उनकी वैवाहिक जीवन पर पड़ता है। इतना ही नहीं सर्वें के अनुसार, आमतौर पर होने वाले तनाव से कहीं ज्यादा  यौन असंतुष्टी से होने वाला तनाव खतरनाक है।
  • स्पर्म में पाए जाने वाला प्रोटीन महिलाओं की त्वचा के लिए काफी अच्छा माना जाता है। यह एंटी एजिंग का काफी अच्छा स्रोत माना जाता है साथ ही इसमें ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो चेहरे की झुर्रियों को दूर करने में मदद करते हैं।   
  • क्या‍ आप जानते हैं सेक्स करने से कुछ समय पहले व्यायाम करने से आपके स्‍वास्‍थ्‍य पर सकारात्मक असर पड़ता है,इसके साथ ही आप अधिक एनर्जेटिक और फ्रेश महसूस करते हैं।
  • स्वस्थ रहने के लिए और अच्छी सेहत के लिए सेक्स बहुत महत्वपूर्ण है। सेक्स करने की कोई उम्र नहीं होती लेकिन उसके लिए मानसिक रूप से तैयार होना अनिवार्य है।



  • किसी भी जटिल कार्य को करने और तनाव से मुक्ति रहने के लिए सेक्स बहुत रोमांचकारी भूमिका निभाता है, इससे आप अपने काम पर आसानी से फोकस कर पाते हैं।
  • एक शोध के मुताबिक जिन लोगों में आत्मविश्वास की कमी होती है, उनके जीवन में सेक्स बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।
  • ये तो सभी जानते हैं सेक्स का सीधा संबंध अच्छी सेहत है,लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में सेक्स बहुत लाभदायक है।
  • महिलाओं को पुरूषों के मुकाबले अधिक बीमारियों का सामना करना पड़ता है, ऐसे में रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ाने के साथ ही सेक्स एक कारगार दर्द निवारक माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि संभोग के
  • दौरान एंडोमार्फीन का स्राव होता है जो कि शक्तिशाली और कारगार दर्द निवारक माना जाता है।
  • आमतौर पर संवेदनशील और भावुक महिलाएं सामान्य महिलाओं के मुकाबले सेक्स को अधिक एंजॉय कर पाती हैं और ऐसी महिलाएं पुरूषों के मुकाबले अधिक कल्पनाशील होती है।

Comments