कंडोम के कुछ मज़ेदार उपयोग

जितेन्द्र प्रताप सिंह (Jitendra Pratap Singh)
कुछ साल पहले उत्तर प्रदेश का स्वास्थ्य विभाग बहुत खुश हुआ जब बनारस के बुनकरों में मुफ्त में बांटे जाने वाले कंडोम की मांग खूब बढ़ गई। स्वास्थ्य विभाग यह सोच रहा था कंडोम बांटने से बुनकरों के जनसंख्या वृद्धि रुकेगी और कंडोम का सही इस्तेमाल होगा लेकिन जब पता चला कि बनारसी साड़ी बनाने वाले बुनकर मुफ्त में मिलने वाले कंडोम का इस्तेमाल साड़ी बनाने में कर रहे हैं तब ना सिर्फ उत्तर प्रदेश का स्वास्थ्य विभाग बल्कि पूरी दुनिया चौक उठी थी साड़ी बनाने वाले बुनकर कंडोम का इस्तेमाल अपने करघा पर करते हैं. साड़ियाँ तैयार करने में इस्तेमाल हो रहे हैं कंडोम दरअसल कंडोम में चिकनाई युक्त पदार्थ होता है और करघा पर लगाने से उसके धागे तेज़ी से चलते हैं और उनमें चमक भी आ जाती है. क्योंकि कंडोम में प्राकृतिक रबड़ यानी लैक्टेस होता है इसलिए बुनकर बुनाई के पहले धागों को कंडोम से खूब रगड़ देते हैं जिससे धागे में इतनी अच्छी चिकनाई आ जाती है इस साड़ी की बुनाई करते समय धागा फसता नहीं है और बुनाई तेजी से होता है और साड़ियों में बहुत अच्छी प्राकृतिक चमक आ जात…

हाथी से जुड़े कुछ दिलचस्प तथ्य


हाथी से जुड़े 20 मजेदार तथ्य
हाथी को धरती पर रहने वाला सबसे बड़ा जानवर कहा गया है। आप सभी ने हाथ की तो देखा ही होगा, लेकिन हाथी के बारे में बहुत सी मजेदार और हैरान कर देने वाली बातें हैं जो आप नहीं जानते होंगे।


1. आपको पता नहीं होगा कि हाथी खड़े होकर सोते हैं ना की लेट कर।
2. हाथी की सूंड की सूंघने शक्ति इतनी तेज होती है। हाथी पानी को 4.5 किलोमीटर दूर भी सूंघ लेती है।
3. हाथी को ज्यादा सोने की आदत नहीं होती यह पूरे दिन में सिर्फ 4 घंटे सोते हैं।
4. पूरी धरती पर हाथी अकेला ऐसा जानवर है जो उछल-कूद नहीं कर सकता।
5. हम इंसानों की तरह हाथियों की गरज भी अलग-अलग होती है।
6. Elephants इतने समझदार होते हैं कि अगर एक हाथी मुसीबत में है तो उसके साथी उसकी मदद करने को आ जाते हैं।


7. हाथियों के किसी झुंड का अगर कोई साथी मर जाता है तो उसके झुंड के सारे साथी अलग-अलग तरह से गरज कर उसकी मौत का शोक मनाते हैं।
8. Elephants को गंदा रहना पसंद नहीं है इसलिए यह हर रोज नहाते हैं।
9. शायद आपको पता ना हो कि हाथी अपनी सूंड की मदद से फर्श पर गिरे 1 रुपए के सिक्के को भी उठा सकता है।
10. वैज्ञानिकों द्वारा खोजे गए हाथियों के अवशेषों से यह बात सामने आई है कि आज से 5 करोड़ साल पहले हाथियों की 170 प्रजातियां थी। हाथियों के जीवाशम Australia और Antarctica के अलावा सभी महाद्वीपों पर मिले हैं।
11. आप यह बात जानकर चौक जाएंगे हाथियों के इतने बड़े कान होने के बाद भी इनको कम सुनाई देता है।
12. अफ्रीकन हाथियों ( African Elephant )के कान भारतीय हाथियों के मुकाबले ज्यादा बड़े होते हैं।
13. आपने कभी सोचा कि हाथी अपने कान क्यों हिलाता है वह अपने शरीर की गर्मी को अपने कानों के जरिए बाहर निकालता है।
14. अफ्रीकन हाथियों का वजन लगभग 6500 किलोग्राम होता है, जबकि भारतीय हाथियों का वजन सिर्फ 5000 किलोग्राम तक होता है।

Comments