दुनिया की सबसे महंगी सब्जी | World Most Expensive Vegetable

दुनिया में कई तरह की सब्जियां हैं कुछ सब्जियां जो हम नॉर्मल लाइफ में रोजाना खाते हैं। लेकिन कुछ सब्जियां ऐसी हैं। जिसके दाम के बारे में सुनकर आप दंग रह जाएंगे। आज इसी विषय में जानने की कोशिश करेंगे दुनिया की सबसे महंगी सब्जी के बारे में। तो आइये इसके बारे में जानते हैं विस्तार से।
हॉप शूट्स।आपको बता दें की ये सब्जी दुनिया की सबसे महंगी सब्जी हैं। आमतौर पर यह सब्जी 1000 यूरो प्रति किलो बिकती है यानी भारतीय रुपये में कहें तो इसकी कीमत 80 हजार रुपये किलो के आसपास है। इसे खरीद पाना नॉर्मल इंसान के बस में नहीं हैं।आपको बता दें की इस हॉप का इस्तेमाल जड़ी-बूटी के तौर पर भी किया जाता है। सदियों से इसका इस्तेमाल दांत के दर्द को दूर करने से लेकर टीबी के इलाज तक में होता रहा है। हॉप में ऐंटीबायॉटिक की प्रॉपर्टी पाई जाती है जो इंसान के हेल्थ के लिए बहुत फायदेमंद हैं। इससे शरीर की कई बीमारियां दूर हो जाती हैं और इंसान खुद को सेहतमंद महसूस करता हैं।यह सदाबहार सब्जी है जो साल भर उगाई जा सकती है। लेकिन ठंडी के मौसम को इसके लिए ठीक नहीं माना जाता है। मार्च से लेकर जून तक इसकी खेती के लिए आदर्श समय मान…

दुनिया की रोचक बातें ! Interesting Facts About World



इस दुनिया में इतनी तरह के सेब है कि हर दिन हम एक खाएं, तो 20 सालों में भी उनकी संख्या पूरी नही होगी। विदेशों में कमाने वाले भारतीय कामगार हर साल 1 लाख करोड़ अमेरिकी डॉलर कमाते है, जिसमें वे 30 हजार करोड़ बचाकर भारत भेजते हैं। अगर आप दिन में 11 घंटे कुर्सी पर बैठे रहते हैं तो आने वाले 3 सालों में आपकी मृत्यु के चांस 50% बढ़ जाते हैं। 3 से 4 साल की उम्र से बच्चे सपने देखना शुरू करते हैं। दाएं हाथ वाले व्यक्ति अपना खाना बाईं तरफ से खाते हैं। एल्बर्ट आइंस्टीन का मानना था कि अगर धरती से सारी मधुमक्खियां चली जाए तो इंसान अगले 4 सालों में मर जाएगा। रात को सोने से पहले एक गिलास दूध के साथ सौंठ का सेवन करे, शरीर का दर्द गायब हो जाएगा। शोर की वज़ह से हमारी आंखों की पुतलियाँ चौड़ी हो जाती हैं। सर को जोर-जोर से हिलाने पर आपके शरीर का अधिकतर हिस्सा सो जाता है, केवल दिमाग काम कर रहा होता हैं। आलसी लोगो की मृत्यु स्मोकिंग करने वालों की तुलना में जल्दी होती हैं। वैज्ञानिकों की मानें तो इंसान के स्वस्थ्य बाल आवाज़ करते हैं। बच्चा बिना घुटने की टोपी के पैदा होता है. यह 2 से 6 साल की आयु में दिखाई देता हैं। हमारे शरीर से इतनी गर्मी निकलती हैं कि आधे घंटे में उससे पानी उबलने लगें। अगर आपका लार भोजन के साथ नहीं मिल पाता तो आप भोजन का स्वाद नहीं महसूस कर पाएंगे। 

Comments