कंडोम के कुछ मज़ेदार उपयोग

जितेन्द्र प्रताप सिंह (Jitendra Pratap Singh)
कुछ साल पहले उत्तर प्रदेश का स्वास्थ्य विभाग बहुत खुश हुआ जब बनारस के बुनकरों में मुफ्त में बांटे जाने वाले कंडोम की मांग खूब बढ़ गई। स्वास्थ्य विभाग यह सोच रहा था कंडोम बांटने से बुनकरों के जनसंख्या वृद्धि रुकेगी और कंडोम का सही इस्तेमाल होगा लेकिन जब पता चला कि बनारसी साड़ी बनाने वाले बुनकर मुफ्त में मिलने वाले कंडोम का इस्तेमाल साड़ी बनाने में कर रहे हैं तब ना सिर्फ उत्तर प्रदेश का स्वास्थ्य विभाग बल्कि पूरी दुनिया चौक उठी थी साड़ी बनाने वाले बुनकर कंडोम का इस्तेमाल अपने करघा पर करते हैं. साड़ियाँ तैयार करने में इस्तेमाल हो रहे हैं कंडोम दरअसल कंडोम में चिकनाई युक्त पदार्थ होता है और करघा पर लगाने से उसके धागे तेज़ी से चलते हैं और उनमें चमक भी आ जाती है. क्योंकि कंडोम में प्राकृतिक रबड़ यानी लैक्टेस होता है इसलिए बुनकर बुनाई के पहले धागों को कंडोम से खूब रगड़ देते हैं जिससे धागे में इतनी अच्छी चिकनाई आ जाती है इस साड़ी की बुनाई करते समय धागा फसता नहीं है और बुनाई तेजी से होता है और साड़ियों में बहुत अच्छी प्राकृतिक चमक आ जात…

दुनिया की रोचक बातें ! Interesting Facts About World



इस दुनिया में इतनी तरह के सेब है कि हर दिन हम एक खाएं, तो 20 सालों में भी उनकी संख्या पूरी नही होगी। विदेशों में कमाने वाले भारतीय कामगार हर साल 1 लाख करोड़ अमेरिकी डॉलर कमाते है, जिसमें वे 30 हजार करोड़ बचाकर भारत भेजते हैं। अगर आप दिन में 11 घंटे कुर्सी पर बैठे रहते हैं तो आने वाले 3 सालों में आपकी मृत्यु के चांस 50% बढ़ जाते हैं। 3 से 4 साल की उम्र से बच्चे सपने देखना शुरू करते हैं। दाएं हाथ वाले व्यक्ति अपना खाना बाईं तरफ से खाते हैं। एल्बर्ट आइंस्टीन का मानना था कि अगर धरती से सारी मधुमक्खियां चली जाए तो इंसान अगले 4 सालों में मर जाएगा। रात को सोने से पहले एक गिलास दूध के साथ सौंठ का सेवन करे, शरीर का दर्द गायब हो जाएगा। शोर की वज़ह से हमारी आंखों की पुतलियाँ चौड़ी हो जाती हैं। सर को जोर-जोर से हिलाने पर आपके शरीर का अधिकतर हिस्सा सो जाता है, केवल दिमाग काम कर रहा होता हैं। आलसी लोगो की मृत्यु स्मोकिंग करने वालों की तुलना में जल्दी होती हैं। वैज्ञानिकों की मानें तो इंसान के स्वस्थ्य बाल आवाज़ करते हैं। बच्चा बिना घुटने की टोपी के पैदा होता है. यह 2 से 6 साल की आयु में दिखाई देता हैं। हमारे शरीर से इतनी गर्मी निकलती हैं कि आधे घंटे में उससे पानी उबलने लगें। अगर आपका लार भोजन के साथ नहीं मिल पाता तो आप भोजन का स्वाद नहीं महसूस कर पाएंगे। 

Comments