भारतीय रेल का सबसे 10 अच्छा स्टेशन ! Top 10 Best Stations of Indian Railways

भारतीय रेल के पास 66,687 किमी का रनिंग ट्रैक है जिसमे कारण यह विश्व की चौथी सबसे बड़ी रेलवे कहलाती है। भारतीय रेलवे के कुछ रेलवे स्टेशन अपने स्थापत्य और प्राकृतिक खूबसूरती के लिए भी जाने जाते हैं। आइये बात करते हैं,ऐसे ही खूबसूरत स्टेशनों के बारे में 

1-विजयवाडा रेलवे स्टेशन ,आंध्रप्रदेश  (Vijayawada Junction)- में सन् 1888 में बना ये रेलवे स्टेशन साउथ इंडिया के सबसे व्यस्त स्टेशनों में से एक है। इसे  2007 में A1 स्टेशन का दर्जा दिया गया है।

2-चार बाग रेलवे स्टेशन ,लखनऊ,यूपी-शायद (Charbagh Railway Station)ये भारतीय रेलवे का सबसे खूबसूरत रेलवे स्टेशन है । चारबाग असल में मुगल स्थापत्य की एक खासियत है,जिसमें चार बाग होते हैं। यह राजपूत,अवधी और मुगल स्थापत्य का नमूना है। इसकी सबसे खास बात इसका ऐरियल व्यू है,जिससे यह चेस के बोर्ड जैसा लगता है।


3-छत्रपति शिवाजी टर्मिनस , मुम्बई (Chhatrapati Shivaji Maharaj Terminus)- इस स्टेशन के महत्व को इस बात से समझा जा सकता है कि इसे यूनेस्को ने विश्व हैरिटेज साइट के रूप में में मान्यता दी है। इसे 1887 में बनाया गया था, तब इसका नाम विक्टोरिया टर्मिनस था ,जो…

प्रकृति’ से जुड़े रोचक तथ्य ! Amazing Nature Facts



 प्रकृति ही हमारी सबसे बड़ी Teacher हैं। ये हमे हर पल कुछ न कुछ सीखाती रहती है बस जरूरत है तो थोड़ा ध्यान देने की। आज तक मनुष्य ने जो कुछ भी हासिल किया है वो प्रकृति से सीख लेकर ही किया हैं। न्यूटन को gravity का पाठ प्रकृति ने ही सीखाया हैं।
 गोल्डफिश infrared व ultravoilet दोनों तरह की किरणों को देख सकती हैं।

 गाजर में 0% फैट होता है। तो अगर आप अपने fat पर ध्यान देने वाले है तो जितनी चाहे गाजर खा सकते हैं।

 झींगे का खून किसी भी रंग नहीं होता पर जब खून बाहर निकलता है तो ऑक्सीजन गैस के साथ मिलकर नीले रंग में परिवर्तित हो जाता हैं।

 पहले willow नामक पेड़ की खाल ही aspirin बनाने का एकमात्र स्रोत थी।

 Electric eel नामक मछ्ली 600 वॉल्ट बिजली को अपने अंदर समाने की क्षमता रखती हैं।

 उल्लू ही एकमात्र ऐसा पक्षी है जो नीले रंग को देख सकता हैं।

 एक मुर्गे की आज तक की सबसे लंबी उडान 13 सेकंड दर्ज की गई हैं।

 जहर फेकने वाले मेंढक की त्वचा भी खतरनाक जहरीली होती हैं।

 गायों के ऊपर के सामने वाले दांत नहीं होते हैं।

 बत्तख अपने सिर को बिना हिलाये नहीं चल सकती।

 Amazon rainforest दुनिया की 20% ऑक्सीजन गैस पैदा करता हैं।

 सभी कीड़ो की कम से कम 6 टाँगे तो होती ही हैं।

 सिर्फ Strawberry और काजू 2 ऐसे फल है जिसके बीज अंदर ना होकर बाहर की तरफ होते हैं।

 राजहंस अपनी टांगो को पीछे की तरह मोड़ सकते हैं।

 चीटियां जब सुबह उठती है तो उनमें ज्यादा खिंचाव होता है पुरे दिन की तुलना में।

 Kivi पक्षी अंधे होते हैं।

 बारिश की बूंदों में खूशबू vitamim B12 के कारण आती हैं।

 केले हमेशा ऊपर की तरफ बढ़ते हैं।

 चमगादड़ ही केवल ऐसे स्तनधारी है जो उड़ सकते हैं।

 आप इंद्रधनुष को केवल तभी देख सकते है जब आपकी पीठ सूर्य की तरफ हो।

 केवल मादा मच्छर ही काटती है नर मच्छर कभी नहीं काटता. ये सिर्फ आवाज करता हैं।

 Cockroaches हमेशा इंसानो से दूर भागते हैं अगर कभी कोई इंसान उनको छू दे तो वो खुद को साफ करने के लिए भाग जाते हैं।

 Washington DC की Potomac नामक नदी के किनारों पे लाइन में लगे हुए Cherry Blossoms के पेड़ जापान ने उपहार में दिए थे, 1912 में जापान ने Cherry Blossoms के 3000 बीज दोनों देशों के दोस्ती के प्रतीक के रूप में दिए थे।

 अगर आपने कभी देखा हो की Snowfall वाली जगह पे सब कुछ शांत होता है वो इसीलिए क्योंकि ताजा बर्फ में आवाज को अपने अंदर अवशोषित करने की क्षमता होती है तो वो आस पास होने वाली आवाज को कम कर देती हैं। और यह इसलिए होता है क्योंकि बर्फ हवा को ट्रैप कर लेती है और ध्वनि के कम्पन को कम कर देती हैं।

 Alex नाम के Grey रंग के तोते को दुनिया का पहला ऐसा पक्षी पाया गया है जिसने ये पूछा था कि उसका रंग कैसा हैं।

 Humming birds की Metabolic Rate इतनी ज्यादा होती है कि वो अपनी पूरी लाइफ भूख की वजह से मरने से पहले जी लेते हैं।

 भारत की एक जनजाति ने अंजीर के पेड़ की शाखाओं के सहारे 100 फुट तक लंबे प्राकृतिक पुलो का निर्माण कर लिया था। वो पुल तक़रीबन 500-600 साल तक वैसे के वैसे थे।

 कुछ साल पहले एक 71 साल के एक ब्राज़ीलियन ने एक पेंगुइन की मरहम पट्टी की थी. अब हैरान कर देने वाली बात ये है कि हर साल वो पंगुइन 2000 मील से ज्यादा दुरी तय करके उस इंसान से मिलने आती हैं।

 मुर्गे को silkies भी कहा जाता है, उनके शांत, मैत्रीपूर्ण व विनम्र व्यवहार के कारण इनको सबसे अच्छा पालतू माना जाता है।

 अगर आप कभी डॉलफिन को समुंदर के तट पर देखे तो कभी भी उसकी पानी में जाने में सहायता न करे क्योंकि डॉलफिन तट पर तभी आती है जब या तो वो बीमार हो या फिर घायल हो. वह पानी में डूबने से बचने के लिए ऐसा करती हैं।

Comments