कंडोम के कुछ मज़ेदार उपयोग

जितेन्द्र प्रताप सिंह (Jitendra Pratap Singh)
कुछ साल पहले उत्तर प्रदेश का स्वास्थ्य विभाग बहुत खुश हुआ जब बनारस के बुनकरों में मुफ्त में बांटे जाने वाले कंडोम की मांग खूब बढ़ गई। स्वास्थ्य विभाग यह सोच रहा था कंडोम बांटने से बुनकरों के जनसंख्या वृद्धि रुकेगी और कंडोम का सही इस्तेमाल होगा लेकिन जब पता चला कि बनारसी साड़ी बनाने वाले बुनकर मुफ्त में मिलने वाले कंडोम का इस्तेमाल साड़ी बनाने में कर रहे हैं तब ना सिर्फ उत्तर प्रदेश का स्वास्थ्य विभाग बल्कि पूरी दुनिया चौक उठी थी साड़ी बनाने वाले बुनकर कंडोम का इस्तेमाल अपने करघा पर करते हैं. साड़ियाँ तैयार करने में इस्तेमाल हो रहे हैं कंडोम दरअसल कंडोम में चिकनाई युक्त पदार्थ होता है और करघा पर लगाने से उसके धागे तेज़ी से चलते हैं और उनमें चमक भी आ जाती है. क्योंकि कंडोम में प्राकृतिक रबड़ यानी लैक्टेस होता है इसलिए बुनकर बुनाई के पहले धागों को कंडोम से खूब रगड़ देते हैं जिससे धागे में इतनी अच्छी चिकनाई आ जाती है इस साड़ी की बुनाई करते समय धागा फसता नहीं है और बुनाई तेजी से होता है और साड़ियों में बहुत अच्छी प्राकृतिक चमक आ जात…

गलती से न जलाएं अगरबत्ती ,घर में हो सकता है ये विनाशकारी असर





हिन्दू धर्म में हर संकट है निवारण हम पूजा पाठ को मानते है हम देवी देवताओ खुश करने के लिए आरती में धूप दीप और अगरबत्ती जलाते है। इससे सुगंध होते है। लेकिन शायद ही आप लोगो को इस बात की जानकारी होगी कि पूजा-पाठ के दौरान धूप का प्रयोग करना तो उचित है, और सबसे हैरान तो आप तब होंगे जब आपको ये पता चलेगा, की अगरबत्ती का प्रयोग करना बहुत अशुभ होता है।



शास्त्रों में कहा गया है कि भगवान की पूजा में कभी भी अगरबत्ती नही जलानी चाहिए। आप सोच रहे होंगे कि आखिर ऐसा क्यों, तो आपको बताते है कि आखिर इसके पीछे क्या कारण है। हिन्दू जब दाह संस्कार जैसे कर्म में भी बांस की लकडी नही जलाते तो फिर क्यों अगरबत्ती के माध्यम से इस लकडी को जलाए। यदि आपको ईश्वर की पूजा में सुगंध ही करनी है तो आप धूप बत्ती का प्रयोग कर सकते है। शास्त्र में भी बताया गया है की कभी बांस की लकडी नही जलानी चाहिए। 




पूजा में क्यों मना है अगरबत्ती इसके पीछे वैज्ञानिक कारण भी है वैज्ञानिको के अनुसार भी जब अगरबत्ती को जलाया जाता है तब उसमे लगा बांस जलने लगता है। इसके जलने से एक गैस निकलती है जो हमारे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है।

Comments