सैटेलाइट फोन क्या है? क्यों यह बहुत महंगा है?

सैटेलाइट फोन….. 'सैटेलाइट फोन को सेटफोन के नाम से भी जाना जाता है,ये हमारे फोन्स की तुलना में अलग होते हैं। क्योंकि यह लैंडलाइन या सेल्युलर टावरों की बजाय सैटेलाइट (उपग्रहों ) से सिग्नल प्राप्त करते हैं'। ( चित्र सैटेलाइटफोन ) इनकी खास बात यह होती है कि इनके द्वारा किसी भी स्थान से काॅल किया जा सकता है। यह हर जगह उपयोगी साबित होते हैं चाहे आप सहारा मरुस्थल में ही क्यों न हों। कहा तो यह भी जाता है कि यह पानी के अंदर भी आसानी से सिग्नल प्राप्त कर सकने में समर्थ होते हैं। सेटेलाइट फोन बस थोड़ा स्लो होते हैं (हमारे मोबाइल फोन के मुकाबले) यानी बातचीत के दौरान इसमें थोड़ी सी अड़चनों का सामना करना पड़ सकता है। क्योंकि इनके द्वारा भेजे गए सिग्लन को सेटेलाइट तक जाने और वहां से वापस लौट कर आने में ज्यादा समय लगता है।हालांकि यह कमी बहुत ही नगण्य है। यह ज्यादातर आपदाओं के समय हमे काफी सहायक सिद्ध होते जब हमारे सिस्टम बहुत हद तक ख़राब हो गये होते हैं। क्या हम सेटेलाइट फोन खरीद सकते हैं….. भारत में सैटेलाइट फोन खरीदने के लिए विशेष कानून बनाए गए हैं भारत ही नहीं हर देश में इसके लिए अलग…

जियो ने शुरु किया पेमेंट बैंक, जानिए क्या है ये?




टेलीकॉम की दुनिया में धमाका करने के बाद मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस jio ने पेमेंट बैंक लॉन्च कर दिया न शुरु हो गया है जिसकी जानकारी भारतीय रिजर्व बैंक ने दी. रिलायंस इंडस्ट्रीज उन 11 आवेदकों में से है जिन्हें अगस्त, 2015 में भुगतान बैंक की स्थापना की सैद्धान्तिक मंजूरी मिली थी और अब तीन अप्रैल से इसका ऑपरेशन शुरु हो गया.




जियो के पेमेंट में सेविंग अकाउंट खोलकर एक लाख रुपये तक जमा कर सकते हैं. पेमेंट बैंक डेबिट कार्ड भी जारी कर सकते हैं. जियो पेमेंट बैंक का ऐप इंस्टाल करें आप इसमें खाता खोल सकते हैं. जियो पेमेंट बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड और स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की साझेदारी में चल रहा है जिसमें रिलायंस की 70 फीसदी हिस्सेदारी है.

टेलीकॉम क्षेत्र की भारती एयरटेल ने नवंबर, 2016 में सबसे पहले पेमेंट बैंक शुरू किया था. पेटीएम ने पेटीएम पेमेंट बैंक मई, 2017 और फिनो पेमेंट बैंक ने पिछले साल जून में ऑपरेशन शुरु किया था. जियो के आने के बाद पेमेंट बैंक की दुनिया में बाकी राइवल्स को कड़ी टक्कर मिलने वाली है..

Comments