सैटेलाइट फोन क्या है? क्यों यह बहुत महंगा है?

सैटेलाइट फोन….. 'सैटेलाइट फोन को सेटफोन के नाम से भी जाना जाता है,ये हमारे फोन्स की तुलना में अलग होते हैं। क्योंकि यह लैंडलाइन या सेल्युलर टावरों की बजाय सैटेलाइट (उपग्रहों ) से सिग्नल प्राप्त करते हैं'। ( चित्र सैटेलाइटफोन ) इनकी खास बात यह होती है कि इनके द्वारा किसी भी स्थान से काॅल किया जा सकता है। यह हर जगह उपयोगी साबित होते हैं चाहे आप सहारा मरुस्थल में ही क्यों न हों। कहा तो यह भी जाता है कि यह पानी के अंदर भी आसानी से सिग्नल प्राप्त कर सकने में समर्थ होते हैं। सेटेलाइट फोन बस थोड़ा स्लो होते हैं (हमारे मोबाइल फोन के मुकाबले) यानी बातचीत के दौरान इसमें थोड़ी सी अड़चनों का सामना करना पड़ सकता है। क्योंकि इनके द्वारा भेजे गए सिग्लन को सेटेलाइट तक जाने और वहां से वापस लौट कर आने में ज्यादा समय लगता है।हालांकि यह कमी बहुत ही नगण्य है। यह ज्यादातर आपदाओं के समय हमे काफी सहायक सिद्ध होते जब हमारे सिस्टम बहुत हद तक ख़राब हो गये होते हैं। क्या हम सेटेलाइट फोन खरीद सकते हैं….. भारत में सैटेलाइट फोन खरीदने के लिए विशेष कानून बनाए गए हैं भारत ही नहीं हर देश में इसके लिए अलग…

Untold Facts About Bat's

                  चमगादड़ से जुड़े रोचक तथ्य

"चमगादड़ों की एक छोटी बस्ती एक साल में 1000 किलो कीड़े जा 6 करोड़ खटमल खा सकती है."

"एक चमगादड़ एक घंटे में 600 खटमल तक खा सकता है जो एक मनुष्य के एक रात में 18 पीजा खाने के बराबर है."
"एक सरवे के अनुसार लगभग 140 बड़े भूरे चमगादड़ एक गर्मी के मौसम में बहुत सारे ऐसे कीटो के खा सकते है जो खीरो को नुकसान पहुँचाते है और इससे किसानो के 51 करोड़ रूपये बचते हैं."
"दुनिया के सबसे लंम्बे चमगादड़ के पंखो की लंम्बाई 5 से 6 फुट तक की है."

"कुछ पौदों के बीज पुंगरते ही नही अगर वह चमगादडों की पाचन प्रणाली से न गुजरें इसके इलाव चमगादड़ जो पका हुआ फल खाते है उनके बीज भी फैला देते है. लगभग 95% उष्णकटिबंधीय वर्षावनों का वनीकरण चमगादड़ों द्वारा फैलाये गये बीजो से हुआ है."
"संसार में लगभग चमगादड़ों की 1100 प्रजातीयाँ पाई जाती है."
"चमगादड़ों की सबसे बड़ी गुफा Texax में है और इसमें2 करोड़ के करीब चमगादड़ रहते है.यह हर रोज 2 लाख किलो खटमल खा जाते हैं." "कुछ सफेद पंखों वाले चमगादड़ मुर्गीयों के पास आकर लेट जाते हैं और चुजे(chicks) होने का नाटक करते हैं . जब वह मुर्गी के नीचे आ जाते हैं तो उनका खून चुसने लगते हैं."

"चमगादड़ एकलौते स्तनधारी प्राणी है जो कि उड़ सकते हैं."
"एक भुरा चमगादड़ लगभग 40 साल तक जीता है जो कि इन जैसे आकार वाले स्तनधारीयो से कही ज्यादा है. चुहे और चकुंदर दो साल से भी कम जीते है."
"पृथ्वी पे जितने भी स्तनपायी प्रजातीयाँ है(मनुष्य समेत) उनमें मे 20 प्रतीशत आबादी चमगादड़ों की है."
"कुछ छोटे प्रकार के चमगादड़ जब सो रहे होते है तो उनके दिल की गति सिर्फ 18 बार प्रति मिनट होती है.पर जब वह जाग जाते है तो गती 880 तक पहुँच जाती है."

Comments