मानव शरीर के बारे में रोचक तथ्य ! Human body facts in Hindi

मानव शरीर के बारे में रोचक तथ्य/ Human body facts in Hindi काले रंग वाले लोगो को गोरे रंग वाले लोगो की तुलना मे दिल के दौरे पडने का खतरा कम होता है।पूरे दिन के मुकाबले जब हम सुबह उठते हैं तब हम लगभग आधा इंच ज्यादा लंबे होते हैं।महिलाओं का दिल और दिमाग पुरूषो दिल व दिमाग की तुलना में छोटा होता है।हमारे फ़ेफ़डे एक दिन मे लगभग 20Kg हवा Filter करते है।हमारी आंखे 10 लाख अलग-अलग रंगो को पहचान सकती है।जब हम अपनी पलक झपकाते है तो हमें कुछ समय अंधेरा दिखाई देता है,इसी पलक झपकाने से हम अपनी जिन्दगी के 5 साल अंधेरे में बिता देते है।शुक्राणु मानव शरीर की सबसे छोटी कोशिका है।मानव मस्तिष्क का 80% भाग पानी का बना होता है।एक बूंद खून में 25 करोड कोशिकाएं पाई जाती है।हमारे शरीर मे हमारा खून एक दिन मे लगभग 20,000 KM तक दौडता है।हमारा ह्रदय खून को 30 Feet तक उछाल सकता है।मानव ह्रदय एक दिन मे लगभग 1,15,100 बार धडकता है।हमारे हाथ के का नाखुन बाकी अंगुलियो के नाखून के मुकाबले धीरे-धीरे बढ़ता है,जबकि हमारे हाथ की बीच वाली अंगुली का नाखून सबसे तेजी से बढ़ता है।हमारे पेट मे उपस्थित हाइड्रोक्लोरिक अम्ल एक ब…

ISRAEL ने निभाया वादा सीमा पर तैनात हुई Spyder Missile System

ISRAEL ने निभाया वादा सीमा पर तैनात हुई Spyder Missile System

 

पाकिस्तान से लगी सीमा पर सैनिकों की मदद के लिए पहली बार इजराइल से आया एयर डिफेंस सिस्टम तैनात कर दिया गया है। अब पाकिस्तान की तरफ से आने वाले किसी भी हवाई खतरे को ये सिस्टम पलभर में ढेर कर देगा। 


इजराइली डिफेंस कंपनी राफेल द्वारा बनाया गया यह सिस्‍टम किसी भी एयरक्राफ्ट, क्रूज मिसाइल, सर्विलांस प्‍लेन या फिर हर उस ड्रोन का पता लगाएगा जो भारत के एयरस्‍पेस का उल्‍लंघन करेंगे। पाकिस्‍तान की ओर से भारत पर हर पल खतरा बढ़ता जा रहा है। ऐसे में भारत को अपनी तैयारियां पूरी रखनी थी। इन्‍हीं तैयारियों का हिस्‍सा बनते हुए देश की पश्चिमी सीमा पर इजरायली एयर मिसाइल डिफेंस सिस्‍टम स्‍पाइडर को तैनात किया गया है, जिसे अंतराष्‍ट्रीय बॉर्डर की ताकत बढ़ाने के मकसद से तैनात किया गया है।
  
यहां बता दें कि पिछली 11 मई को भारत ने स्पाइर मिसाइल सिस्टम का परीक्षण किया था। स्पाइडर कम समय में हवा में दुश्मन पर हमला करने के लिए बनाई गई सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल है। कम उंचाई में इसकी मारक क्षमता 15 किलोमीटर तक है। हालांकि यह भारत में निर्मित सतह से हवा में मार करने में सक्षम आकाश मिसाइल से छोटी है, लेकिन इसका एडवांस्ड नेविगेशन किसी भी खतरे को भांपने और उस पर हमला करने के लिए तुरंत तैयार रहता है। 

Comments