कंडोम के कुछ मज़ेदार उपयोग

जितेन्द्र प्रताप सिंह (Jitendra Pratap Singh)
कुछ साल पहले उत्तर प्रदेश का स्वास्थ्य विभाग बहुत खुश हुआ जब बनारस के बुनकरों में मुफ्त में बांटे जाने वाले कंडोम की मांग खूब बढ़ गई। स्वास्थ्य विभाग यह सोच रहा था कंडोम बांटने से बुनकरों के जनसंख्या वृद्धि रुकेगी और कंडोम का सही इस्तेमाल होगा लेकिन जब पता चला कि बनारसी साड़ी बनाने वाले बुनकर मुफ्त में मिलने वाले कंडोम का इस्तेमाल साड़ी बनाने में कर रहे हैं तब ना सिर्फ उत्तर प्रदेश का स्वास्थ्य विभाग बल्कि पूरी दुनिया चौक उठी थी साड़ी बनाने वाले बुनकर कंडोम का इस्तेमाल अपने करघा पर करते हैं. साड़ियाँ तैयार करने में इस्तेमाल हो रहे हैं कंडोम दरअसल कंडोम में चिकनाई युक्त पदार्थ होता है और करघा पर लगाने से उसके धागे तेज़ी से चलते हैं और उनमें चमक भी आ जाती है. क्योंकि कंडोम में प्राकृतिक रबड़ यानी लैक्टेस होता है इसलिए बुनकर बुनाई के पहले धागों को कंडोम से खूब रगड़ देते हैं जिससे धागे में इतनी अच्छी चिकनाई आ जाती है इस साड़ी की बुनाई करते समय धागा फसता नहीं है और बुनाई तेजी से होता है और साड़ियों में बहुत अच्छी प्राकृतिक चमक आ जात…

ISRAEL ने निभाया वादा सीमा पर तैनात हुई Spyder Missile System

ISRAEL ने निभाया वादा सीमा पर तैनात हुई Spyder Missile System

 

पाकिस्तान से लगी सीमा पर सैनिकों की मदद के लिए पहली बार इजराइल से आया एयर डिफेंस सिस्टम तैनात कर दिया गया है। अब पाकिस्तान की तरफ से आने वाले किसी भी हवाई खतरे को ये सिस्टम पलभर में ढेर कर देगा। 


इजराइली डिफेंस कंपनी राफेल द्वारा बनाया गया यह सिस्‍टम किसी भी एयरक्राफ्ट, क्रूज मिसाइल, सर्विलांस प्‍लेन या फिर हर उस ड्रोन का पता लगाएगा जो भारत के एयरस्‍पेस का उल्‍लंघन करेंगे। पाकिस्‍तान की ओर से भारत पर हर पल खतरा बढ़ता जा रहा है। ऐसे में भारत को अपनी तैयारियां पूरी रखनी थी। इन्‍हीं तैयारियों का हिस्‍सा बनते हुए देश की पश्चिमी सीमा पर इजरायली एयर मिसाइल डिफेंस सिस्‍टम स्‍पाइडर को तैनात किया गया है, जिसे अंतराष्‍ट्रीय बॉर्डर की ताकत बढ़ाने के मकसद से तैनात किया गया है।
  
यहां बता दें कि पिछली 11 मई को भारत ने स्पाइर मिसाइल सिस्टम का परीक्षण किया था। स्पाइडर कम समय में हवा में दुश्मन पर हमला करने के लिए बनाई गई सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल है। कम उंचाई में इसकी मारक क्षमता 15 किलोमीटर तक है। हालांकि यह भारत में निर्मित सतह से हवा में मार करने में सक्षम आकाश मिसाइल से छोटी है, लेकिन इसका एडवांस्ड नेविगेशन किसी भी खतरे को भांपने और उस पर हमला करने के लिए तुरंत तैयार रहता है। 

Comments