सैटेलाइट फोन क्या है? क्यों यह बहुत महंगा है?

सैटेलाइट फोन….. 'सैटेलाइट फोन को सेटफोन के नाम से भी जाना जाता है,ये हमारे फोन्स की तुलना में अलग होते हैं। क्योंकि यह लैंडलाइन या सेल्युलर टावरों की बजाय सैटेलाइट (उपग्रहों ) से सिग्नल प्राप्त करते हैं'। ( चित्र सैटेलाइटफोन ) इनकी खास बात यह होती है कि इनके द्वारा किसी भी स्थान से काॅल किया जा सकता है। यह हर जगह उपयोगी साबित होते हैं चाहे आप सहारा मरुस्थल में ही क्यों न हों। कहा तो यह भी जाता है कि यह पानी के अंदर भी आसानी से सिग्नल प्राप्त कर सकने में समर्थ होते हैं। सेटेलाइट फोन बस थोड़ा स्लो होते हैं (हमारे मोबाइल फोन के मुकाबले) यानी बातचीत के दौरान इसमें थोड़ी सी अड़चनों का सामना करना पड़ सकता है। क्योंकि इनके द्वारा भेजे गए सिग्लन को सेटेलाइट तक जाने और वहां से वापस लौट कर आने में ज्यादा समय लगता है।हालांकि यह कमी बहुत ही नगण्य है। यह ज्यादातर आपदाओं के समय हमे काफी सहायक सिद्ध होते जब हमारे सिस्टम बहुत हद तक ख़राब हो गये होते हैं। क्या हम सेटेलाइट फोन खरीद सकते हैं….. भारत में सैटेलाइट फोन खरीदने के लिए विशेष कानून बनाए गए हैं भारत ही नहीं हर देश में इसके लिए अलग…

रानी क्लियोपेट्रा कौन थी और उसके बारे में कुछ रहस्यमय पहलू ! Some mysterious aspects of Queen Cleopatra



दुनिया के सामने अब तक की सबसे अनसुलझी पहेलियों में से एक है मिस्र की रानी क्लियोपैट्रा। विश्व के अलग-अलग हिस्सों में आज तक ऐसे कई रहस्यमयी लोगों ने जन्म लिया जिनके बारे में प्रचलित कई रहस्यों को आज तक सुलझाया नहीं जा सका है। इन रहस्यों का जवाब किसी वैज्ञानिक के पास भी नहीं है। इनमें से किसी की मौत पर शंका बना हुआ है तो किसी की पहचान पर।
क्लियोपैट्रा अपनी खूबसूरती के लिए पूरी दुनिया में विख्यात थी। उसकी मौत महज 38 वर्ष की उम्र में हुई थी लेकिन क्लियोपैट्रा की मौत आज भी रहस्य बनी हुई है। उसकी मौत के पीछे लोगों के अलग-अलग तर्क हैं। किसी का कहना है कि एक्टिऊम की जंग में हारने के बाद वह इतनी टूट गई थी कि उसने खुद को सांप से डंसवा लिया जबकि कुछ लोगों का कहना है कि हार के बाद अगस्टस ने क्लियोपैट्रा की हत्या कर दी।
हालांकि, सच्चाई क्या है यह कोई नहीं जानता। कहा जाता है कि वह जितनी सुंदर और सैक्सी थी उससे कहीं ज्यादा वह चतुर, षड्यंत्रकारी और निर्दय भी थी। उसके कई पुरुषों से संबंध थे। वह राजाओं और सैन्य अधिकारियों को अपनी सुंदरता के मोहपाश में बांधकर उनको ठिकाने लगा देती थी। क्लियोपैट्रा को दुनिया की सबसे अमीर और सुंदर औरत माना जाता था।
वह तीन ताकतवर पुरुषों की प्रतियोगी थीं-जूलियस सीजर, मार्क एंथोनी और आक्टेवियन । जूलियस सीजर ने उसे मिस्र की रानी बनने में मदद की थी। अनेक कलाकारों ने क्लियोपैट्रा के रूप रंग और उसकी ख़ुमार पर कई चित्रकारी और मूर्तियां बनाई। साहित्य में वह इतनी लोकप्रिय हुईं कि अनेक भाषाओं के साहित्यकारों ने उन्हें अपनी कृतियों में नायिका बनाया।
अंग्रेजी साहित्य में 3 नाटककारों शेक्सपियर, ड्राइडन और बनार्ड शा ने अपने नाटकों में उनके व्यक्तित्व के कई पहलुओं का विस्तार किया। क्लियोपैट्रा पर कई फिल्में भी बन चुकी हैं। क्लियोपैट्रा का संबंध भारत से भी था। वह भारत के गर्म मसाले, मलमल और मोती भरे जहाज सिकंदरिया के बंदरगाह में खरीद लिया करती थी।
कहते हैं कि क्लियोपैट्रा को 5 भाषाओं का ज्ञान था और वह एक चतुर नेता थी। यही कारण था कि वह बहुत जल्दी से किसी से भी जुड़कर उसके सारे राज जान लेती थी और इसी के चलते उसके सैंकड़ों पुरुषों से संबंध थे। अपने शासन और अपने अस्तित्व को बचाने के लिए क्लियोपैट्रा ने हर अच्छा-बुरा पैंतरा आजमाया।

Comments