Kobita - শৈশবের হাসি-খেলা ! শিরিন সুলতানা

শৈশবের হাসি-খেলা   শিরিন সুলতানা

নেবে কি আমায় তোমাদের সাথে?
দিগন্ত ছুঁয়ে দিবো হাত রেখে হাতে।

 সাঝ-সকালে সবাই মিলে
বকুলতলায়
ফুল কুড়িয়ে ভরবো ঝুড়ি,
অলস দুপুর কাটিয়ে দিবো
খেলবো মোরা লুকোচুরি।

টুনটুনির ঐ বাসার খুঁজে ভাঙবো মোরা ডুমুর ডাল,
মার্বেল তুমি বেশ তো খেলো
আমায়ও শিখিয়ে দিও খেলার চাল।

বৈশাখের দমকা হাওয়ায়
আম কুঁড়াবো
মাথায় দিয়ে কচুপাতার ছাতি
নুন,তেল,আর দুমুঠো চাল
কুড়িয়ে এনে শুকনো ডাল
খেলবো সবে চড়ুইভাতি।

নেবে কি আমায় তোমাদের সাথে
দিবে কি খানিক হাসির ভাগ?
তোমার আইসক্রীমের আধেক দিও
গাল ফুলিয়ে করলে রাগ।

নেবে কি আমায়, তোমাদের এই হাসি হাসি খেলায়?
আমার শৈশব যে হারায়েছি আমি, হাসি হারায়েছি অবহেলায়।

আজ নাহয় দুধভাত করেই নিও আমায় তোমাদের সাথে,
অনেক মজা করবো সবাই খেলবো সবাই হাত রেখে হাতে।

শৈশবের হাসি-খেলা
~শিরিন সুলতানা

नमक के बारे में कुछ रोचक तथ्य ! Some interesting facts about salt



1. भारत नमक के उत्पादन के मामले में तीसरे नंबर पर है. भारत में 70% नमक समुद्र के पानी से बनता है.
2. भारत में सेंघा नमक हिमाचल प्रदेश में ही उत्पन्न होता है.
3. आजादी से पहले भारत में नमक की बहोत ही कमी थी जिसकी वजह से हमको नमक का आयात करना पड़ता था.
4. वैज्ञानिको के अनुसार दुनिया में नमक कभी भी खत्म नही होगा क्यूंकि समुद कभी सुख नहीं सकता है.
5. अगर सही मात्रा में नमक का इस्तमाल किया जाए तो यह हमारे शरीर में रोग प्रतिकारक शक्ति को बढाता है.
6. अगर आप ज्यादा मात्रा में नमक का इस्तमाल करते हो तो आपकी मौत भी हो सकती है.
7. काले नमक का उपयोग दवाई में अधिक मात्रा में होता है क्यूंकि यह शरीर के लिए बेहद ही फायदेमंद है और इसको कही भी उगाया या बनाया नही जाता है बल्कि यह कुदरत की दें है जो पहाड़ो और ज्वालामुखी के पत्थर से मिलता है.
8. काले नमक में सोडियम, क्लोराइड, सल्फर, आयरन, हाइड्रोजन , पोटेशियम, कैल्शियम, मैग्नेशियम, गेगेट, आयोडीन जैसे 80 तरह के खनिज तत्व होते है जो हमारे शरीर के लिए बेहद ही फायदेमंद है.
9. अगर आपको पता ना हो तो बता दे की समुदी नमक में एल्युमिनियम सिलिकेट और पोटेशियम अयोडेट जैसे घातक राशायन होते है इसी वजह से अमेरिका, डेनमार्क सहित दुनिया के 56 देशो ने सफ़ेद नमक पर रोक लगा दी है लेकिन भारत में 90% लोग सफ़ेद नमक का ही इस्तमाल करते है.
10. हर साल सफ़ेद नमक का इस्तमाल करने के कारण कई सारे लोगो को कैंसर, शिर पर गांठ जैसी बीमारी हो जाती है और मर जाते है.

Comments