पहली बार जब घड़ी का आविष्कार हुआ , दुनिया की पहली घड़ी में समय कैसे मिलाया गया

कहते हैं की हाथ में पहनी हुई घड़ी न सिर्फ इन्सान को समय बताती है बल्कि इन्सान का समय भी बताती है। कंफ्यूज हो गये क्या? कभी आपने सोचा है कि घड़ी जो बिना रुके हर वक़्त चलती रहती है ; कहाँ बनी होगी? सबसे पहले घड़ी में टाइम कैसे सेट किया गया होगा? कहीं वो टाइम गलत तो नहीं ; वरना आज तक हम सब गलत समय जीते आ रहे हैं। इन्ही सब सवालों के साथ आज कुछ घड़ी अपनी घड़ी की बात करते हैं। कई सिद्धांतों पर बनती हैं घड़ियां जैसा की हम सब जानते हैं की घड़ी एक सिम्पल मशीन है जो पूरी तरह स्वचालित है और किसी न किसी तरह से वो हमे दिन का प्रहर बताती है। ये घड़ियाँ अलग अलग सिद्धांतों पर बनती हैं जैसे धूप घड़ी; यांत्रिक घड़ी और इलेक्ट्रॉनिक घड़ी। मोमबत्ती द्वारा समय का ज्ञान करने की विधि जब हम बचपन में विज्ञान पढ़ा करते थे तो आपको याद होगा की इंग्लैंड के ऐल्फ्रेड महान ने मोमबत्ती द्वारा समय का ज्ञान करने की विधि आविष्कृत की। उसने एक मोमबत्ती पर, लंबाई की ओर समान दूरियों पर चिह्र अंकित कर दिए थे। प्रत्येक चिह्र तक मोमबत्ती के जलने पर निश्चित समय व्यतीत होने का ज्ञान होता था। कैसे देखते थे समय बीते समय में प्राचीन …

Some amazing facts about time ! समय के बारे में अदभुत तथ्य

मूल लेखक
हो सकता है कि Deepesh Singh द्वारा दिया गया यह जवाब, Quora अंग्रेज़ी में का सटीक अनुवाद न हो: 
1. लगभग जितना पुराना ब्रह्माण्ड है|
z8_GND_5296 नाम की गैलेक्सी ब्रह्माण्ड में सबसे पुरानी वस्तु मानी गयी है इसकी आयु 13.1 अरब वर्ष मानी जाती है जो ब्रह्माण्ड की आयु से 70 करोड़ वर्ष कम है|
2. पृथ्वी पर समय वास्तव में धीमा हो रहा है|
सूर्य और चन्द्रमा से ज्वार-भाटा घर्षण(Tidal Friction) के कारण पृथ्वी की घूमने की गति धीरे धीरे कम(slows down) को रही है और एक सौर्य दिन(solar day) प्रत्येक सौ वर्ष में 1.7 मिली सेकंड लम्बा हो रहा है|
3. समय हमेशा से अस्तित्व में नहीं था|
सापेक्षता के सिद्धांत(theory of relativity) के अनुसार( suggests ) 13.7 अरब वर्ष पूर्व बिग-बैंग से पहले स्पेस और समय अस्तित्व में नहीं था और सारा द्रव्य(matter) एक छोटी सी गेंद में पैक था समय को स्पेस में गति से मापा जाता है इसलिए स्पेस की गति के बिना समय नहीं है|
4. शनिवार की रात में
17 वी शताब्दी के आर्माग के पादरी जेम्स अशर के अनुसार पृथ्वी की संरचना 22 अक्टूबर 4004 (इसा पूर्व) हुई थी अशर इस नतीजे पर बाइबिल में उल्लेखित परिवार के इतिहास को जोड़तोड़ कर पहुंचे थे|
5.हरचीज भूतकाल है|
प्रकाश को हम तक पहुँचने में समय लगता है, इसलिए जो भी हम देखते है वो वास्तव में भूतकाल होता है जब भी आप खिड़की में सूर्य का प्रकाश देखते है वो 8 मिनट और 20 सेकंड पुराना होता है पृथ्वी के सबसे नज़दीक तारे प्रोक्सिमा(Proxima) का प्रकाश 4 वर्ष पुराना होता है|
6. भावनाओ का विनियमन(regulation) समय के आभास को फैलाता है|
जब हम अपनी सहज या स्वाभाविक ज्ञान से लड़ रहे होते है तो समय धीरे धीरे गुजरता हुआ प्रतीत होता है|
7. यह बिलकुल सच है कि मौज-मस्ती में समय का पता ही नहीं चलता है|
वास्तव में यह बिलकुल उलट है जब कोई मनपसंद संगीत को सुनता है समय धीरे धीरे गुजरता हुआ प्रतीत होता है ऐसा इसलिए हो सकता है क्योंकि हर कोई अपनी मनपसंद चीजों पर ज्यादा ध्यान देते है इससे समय की अनुभूति कम हो जाती है|
8. आसमान में समय तेज़ी से बीतता है|
गुरुत्वाकर्षण क्षेत्र जितना ज्यादा घना होता है समय उतना ही धीरे से व्यतीत होता है इसका अर्थ है कि समुद्र तट का एक सेकंड उचाई पर(जैसे हवाई जहाज पर) के सेकंड से 1 नैनो सेकंड(1 सेकंड का दस करोड़वा हिस्सा) लम्बा होता है|
9. क्वांटम सिद्धांत(quantam theory) के अनुसार सबसे छोटा समय 0.0000000000000000000000000000000000000000001 सेकंड का अस्तित्व हो सकता है|
इसे प्लैंक समय( "Planck Time.") कहा जाता है|
10. डाइनोसोर्स को पूरा दिन काम करने के लिए 23 घंटे काम करना होता था|
14 करोड़ वर्षो के बाद पृथ्वी पर एक दिन 25 घंटो का होने की उम्मीद( expected) है|

Comments