हार्ट अटैक होने से पहले हमारे शरीर को ऐसे कौनसे संकेत मिलते हैं जिससे हम सावधान हो जाएं ! What are the signs heart attack

Anil Kumar Sharma,
हर्ट अटैक से मरने वाले अधिकतर लोगों को पहले से पता ही नहीं होता कि उन्हें दिल की बीमारी है, जबकि हर्ट अटैक से एक महीने पहले ही इसके लक्षण रोगी में दिखाई देने लगते हैं। अगर इन्हें समय रहते पता लिया गया तो रोगी का जान बचाई जा सकती है। आज हम आपको उन्हीं लक्षणों के बारे में बताने वाले हैं। थकान – अगर आप किसी भी तरह का वर्कआउट नहीं करते या फिर आपने कोई भी ऐसा काम नहीं किया जिसमें ज्यादा मेहनत लगी हो और ऐसे में भी आपको काफी थकान महसूस हो रही हो तो समझ लीजिए कि आपको हर्ट अटैक आ सकता है। ऐसे में आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। सांस लेने में दिक्कत – अगर आपको सांस लेने में दिक्कत आ रही हो तो यह भी हार्ट अटैक की निशानी हो सकती हो सकती है। दरअसल दिल के ठीक से काम न करने पर फेफड़ों तक उतनी मात्रा में ऑक्सीजन नहीं पहुंच पाता जितनी उसको जरूरत होती है। इस वजह से व्यक्ति को सांस लेने में दिक्कत आने लगती है। बाजुओं में दर्द होना – जब दिल को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नहीं मिल पाती तो स्पाइन प्रभावित होने लगता है। इससे हार्ट, स्पाइन और बाजुओं से जुड़ी तंत्रिकाओं …

दिमागी शक्ति से जुड़े आश्चर्यजनक तथ्य ! Amazing Facts Related To Brain Power



मानव मस्तिष्क के बारे में आश्चर्यजनक तथ्य
1. जब आप जाग रहे होते हैं ,तब आपका दिमाग 10 से 23 वाट की बिजली उर्जा छोड़ता है, जो एक बिजली के बल्ब को भी चला सकती है।
2. मनुष्य के दिमाग में दर्द की कोई भी नस नहीं होती है, इसलिए वह कोई दर्द महसूस नहीं करता है।
3. हमारा दिमाग 75% से ज्यादा पानी से बना होता है।
4. आपका दिमाग 5 साल की उम्र तक 95% बढ़ता है, और 18 तक पहुँचते-पहुँचते 100% विकसित हो जाता है और उसके बाद बढ़ना रूक जाता है।
5. सर्जरी से हमारा आधा दिमाग हटाया जा सकता है, और इससे हमारी यादों पर भी कुछ असर नहीं पडेगा।
6. आप अपने दिमाग में न्युरॉनज़ की गिणती दिमागी क्रियाएँ करके बढ़ा सकते हैं। क्योंकि शरीर के जिस भी भाग की हम ज्यादा उपयोग करते है वह और विकसित होता जाता है।
7. पढ़ने और बोलने से बच्चों का दिमागी विकास ज्यादा होता है।
8. जब आप एक आदमी का चेहरा गौर से देखते हैं, तो आप अपने दिमाग का दायां भाग उपयोग करते है।
9. हमारे शरीर के भिन्न हिस्सों से सूचना भिन्न रफतार से और भिन्न न्युरॉन के द्वारा हमारे दिमाग तक पहुँचती है। सारे न्युरॅान एक जैसे नहीं होते। कई न्युरॅान ऐसे होते हैं, जो सूचना को 0.5 मीटर प्रति सैकेंड की रफतार से दिमाग तक पहुँचाते हैं, और कई ऐसे भी होते हैं जो सूचना को 120 मीटर प्रति सैकेंड की रफतार से दिमाग तक पहुँचाते हैं।
10. आपके दिमाग की Right side आपकी body के left side को, जबकि दिमाग की left side आपकी body के Right side को कंट्रोल करती है।
11. जो बच्चे पाँच साल का होने से पहले दो भाषाएँ सीखते हैं, उनके दिमाग की संरचना थोड़ी सी बदल जाती है।
12. आप के दिमाग में हर दिन औसतन 60,000 विचार आते हैं।
13. अकसर ऐसा कहा जाता है कि हम दिन में 20,000 बार पल्क झपकते हैं और इसके कारण हम दिन में 30 मिनट तक अंधे रहते हैं। लेकिन यह सच नहीं है। असल में हम दिन में 20,000 बार पलक जरूर झपकते हैं पर 30 मिनट तक अंधे नहीं रहते। क्योंकि हमारा दिमाग इतने कम समय में वस्तु का चित्र अपने आप बनाए रखता है। हमारे पलक झपकने का समय 1 सैकेंड के 16वे हिस्से से कम होता है पर दिमाग किसी भी वस्तु का चित्र सैकेंड के 16वे तक बनाए रख सकता है।
14. हँसते समय हमारे दिमाग के लगभग 5 हिस्से एक साथ कार्य करते हैं।
15. दिमाग का आकार और वजन दिमागी शक्ति पर कोई प्रभाव नहीं डालता। Albert Einstein के दिमाग का वजन 1230 ग्राम था जो कि सामान्य मनुष्य के बराबर था।
16. एक जिंदा इंसानी दिमाग बहुत नर्म होता है और इसे चाकू से आसानी से काटा जा सकता है।
17. दिमाग में 1,00,000 मील लंबी रक्त वाहिनियाँ होती हैं।
18. दिमाग को 4 से 6 मिनट तक ऑक्सीजन न मिलने पर भी यह रह सकता है। पर 5 मे 10 मिनट तक न मिलने पर brain damage पक्की है।
19. मनुष्य के दिमाग का वजन लगभग 1500 ग्राम तक होता है।
20. हमारे दिमाग में न्युरॅान की गिणती 100 अरब (जितने आकाशगंगा में तारे होते है) होते हैं और हर न्युरॅान में 1,000 से 10,000 synopses होते है।
21. वैज्ञानिक मानते हैं कि ब्रह्माण्ड में सबसे जटिल और रहस्मई चीज मनुष्य का दिमाग है।
22. मानव दिमाग के अंदर एक सैकेंड में 1 लाख रासायनिक प्रतिक्रियाएँ होती हैं।
23. हमारे दिमाग के 60% हिस्से में चर्बी होती हैं। इसलिए यह शरीर का सबसे अधिक चर्बी वाला अंग हैं।
24. मस्तिष्क में प्रत्येक वस्तु (सूचना) संग्रहित होते जाती है। तकनीकी रूप से मस्तिष्क के पास अनुभव, अवलोकन, पठन, श्रवण आदि प्रत्येक वस्तु (सूचना) को संग्रह करने की क्षमता होती है। जन्म के बाद से प्रत्येक वस्तु उसमें संग्रहित होते जाती है, कुछ भी नहीं छूटता। यह अलग बात है कि मनुष्य में अपने ही मस्तिष्क में सग्रहित किसी अनेक वस्तुओं (सूचनाओं) तक वापस पहुँचने यानि कि अनेक घटनाओं को स्मरण रख पाने की क्षमता नहीं होती।
25. दिमाग शरीर का लगभग 2% है। परन्तु यह कुल ऑक्सीजन का 20% खपत करता है और खून भी 20% उपयोग करता हैं।
26. जब मनुष्य दो साल का होता है तो उसके दिमाग में किसी और समय के इलावा Brains cells की गिणती सबसे ज्यादा होती है।
27. दिमाग के बारे में सबसे पहला उल्लेख 6000 साल पहले सुमेर से मिलता है।
28. रिसर्च से पता चला है कि पुरूषों और महिलायों के दिमाग की बनावट अलग-अलग होती है।
29. अगर हमारी चमड़ी और मेहदे की तरह हमारे मस्तिष्क के cell भी बदल जाए तो हम अपनी याददाशत गंवा सकते हैं।
30. मनुष्य दिन की अपेक्षा रात को ज्यादा बढ़ते हैं। यह दिमाग के एक छोटे से भाग pituitary (पिट्यूटरी) ग्रंथी के कारण होती है जो रात को सोते समय एक बढ़ने वाला हारमोन छोड़ती है।
31 TO 40 AMAZING FACTS OF HUMAN BRAIN IN HINDI
31. वज़न के लिहाज से अब तक सबसे भारी दिमाग एक रूसी लेखक Ivan turgenew
का था। उसके दिमाग का वजन लगभग 2.5 किलो था और उसकी मृत्यु 1883 में हुई थी।
32. दिमाग में 40% भाग का रंग grey है और 60% भाग का रंग सफेद है। grey भाग में न्युरॉन होते है जो संचार का काम करते हैं।
33. हमारा दिमाग़ 40 साल की उम्र तक बढ़ता रहता हैं। इसके के बाद यह सुकड़ने लगता है।
34. अगर शरीर के आकार को ध्यान में रखा जाए तो मनुष्य का दिमाग सभी प्रणीयों से बड़ा हैं। हाथी के दिमाग का आकार उसके शरीर के मुकाबले सिर्फ 0.15% होता है जबकि मनुष्य का 2 प्रतीशत।
35. मानव का मस्तिष्क computer से भी ज्यादा तेज प्रतिक्रिया करता है।
36. आपका अवचेतन मन(दिमाग) आपके चेतन मन से 30,000 गुना शक्तिशाली होता है।
37. मनुष्य के दिमाग की left side बोलने को कंटरोल करती है और पंक्षियों के दिमाग की left side उनकe चहचहाना कंटरोल करती है।
38. दिमाग शराब पीने के लगभग 7-8 minute के अंदर ही active हो जाता है और हमे नशा होने लगता है।
39. Brain (दिमाग) और mind (मन) दो अलग अलग चीजे है। मन दिमाग के किस भाग में है इसका पता विज्ञान अभी तक नहीं लगा पाया है।
40. अगर दिमाग से amygdala (प्रमस्तिष्कखंड) निकाल दिया जाए तो इंसान का किसी भी चीज से हमेशा के लिए डर खत्म हो जाएगा।
41. दिमाग की 10% प्रयोग करने वाली बात भी सच नही हैं बल्कि दिमाग के सभी हिस्सों का अलग-अलग काम होता हैं।
42. अगर आपने पिछली रात शराब पी थी और अब आपको कुछ याद नही हैं तो इसका मतलब ये नही हैं कि आप ये सब भूल गए हों, बल्कि ज्यादा शराब पीने के बाद आदमी को कुछ नया याद ही नहीं होता।
43. एक दिन में हमारे दिमाग़ में 60,000 विचार आते हैं और इनमें से 70% विचार Negative (नकारात्मक) होते हैं।
44. हमारे दिमाग की memory unlimited होती हैं। यह computer और आपके Smartphone की तरह कभी नहीं कहेगा कि memory full हो गई।
45. जब हमे कोई इगनोर या रिजेक्ट करता हैं तो हमारे दिमाग को बिल्कुल वैसा ही महसूस होता हैं जैसा चोट लगने पर।
46. जिस घर में ज्यादा लड़ाई होती हैं उस घर के बच्चों के दिमाग पर बिल्कुल वैसा ही असर पड़ता हैं जैसा कि युद्ध का सैनिकों पर।
47. टी.वी. देखने की प्रक्रिया में दिमाग़ बहुत कम इस्तेमाल होता है और इसलिए इससे बच्चों का दिमाग़ जल्दी विकसित नहीं होता। बच्चों का दिमाग़ कहानियां पढ़ने से और सुनने से ज्यादा विकसित होता है क्योंकि किताबों को पढ़ने से बच्चे ज्यादा कल्पना करते हैं।
48. कुछ ना कुछ सीखते रहने से दिमाग में नई झुर्रियां विकसित होती रहती हैं और यह झुरिया ही IQ का सही पैमाना हैं।
49. अगर आप अपने स्मार्टफ़ोन पर लंबे समय तक फालतु काम करते हैं तब आपके दिमाग़ में ट्यूमर होने का खतरा बढ़ जाता हैं।
50. 24 साल की उम्र से ही आपका दिमाग धीमा होने लगता है। लेकिन उम्र के अनुसार आपका दिमाग परिपक्व हो जाता है और नयी-नयी तकनीको और योग्यताओ को हासिल कर लेता है। इतना ही बल्कि किसी भी उम्र में आपका दिमाग नयी-नयी बातों को अपनाने के लिये तैयार रहता है।

Comments