गेहूं और चावल दोनों में कौन अधिक पौष्टिक है ! Which is more nutritious in both wheat and rice

कुछ लोग रोटी खाने के तो कुछ लोग चावल के शौकीन होते है। क्योंकि ये ऐसे खाद्य पदार्थ है। जिसे साल के बारह महीने लोग खाना पसंद करते है, पर आज तक लोगों को सही से यह नहीं पता है कि रोटी और चावल इन दोनों अनाजों में से कौन ज्यादा बेहतर है। क्योंकि ये दोनों अनाज अपने आप में एक बेहतरीन भोजन का काम करते है। तो ऐसे में आइये जानते है इन दोनों में से कौन से हमारे स्वास्थ्य के लिए ज्यादा फायदेमंद है:- इन दोनों अनाजों को आप अपने नाश्ते के साथ -साथ लंच में और डिनर में भी खा सकते हैं। इसके साथ ही गेहूं से बनी रोटी का सेवन आप सब्जी के साथ भी कर सकते है। इसी तरह चावल भी आप दाल, सब्जी के साथ खा सकते है। इन दोनों अनाजों में भरपूर मात्रा में पौष्टिक तत्व होते है जो हमारे शरीर के लिए काफी फायदेमंद होते है। अगर हम बात करें, इन दोनों अनाज के नुकसान के बारे में तो वैसे तो इसके सेवन से कोई भी हमारे शरीर को नुकसान नहीं पहुँचता। मगर आज के समय में शुद्ध चावल और गेहूं का आटा मिलना भी अपने आप में बहुत बड़ी बात है। ज्यादातर लोगों का सवाल अभी भी यही होता है कि कौन-सा अनाज ज्यादा बेहतर होता है। अगर हम ज्याद…

ঢেউ By-পলি ঘোষ ! Bangla Kobita

ঢেউ 

পলি ঘোষ 



চলতি পথের অচেনা ভীড়ে ।
দেখিনি যাদের আগে ,
তাদের মাঝে ও দেখি আমি 
কিছু চেনা মানুষ। 
আমার প্রিয় কাব্যখানি জুড়ে, 
লিখছি পাতায় যাকে খুঁজছি অহর্নিশ, 
আমার প্রেমের স্মৃতিরা আজ ভস্ম, 
বৃথাই খুঁড়ি স্মৃতির কবর, 
শূন্য বুকের পাঁজর 
কলম শুধুই গুমরে মরে 
করুন হাসি মুখে, 
ক্ষয়ে যায় অন্তরের শিলালিপি 
স্মৃতির ভারেই নুয়ে পরে জল  ।
চেনা অচেনার ভুল অঙ্কে 
একটু আধটু হলেও ঠিক 
মুচকে হাসি আমার ভাগ্য দেখে, 
ভীড়ে যাওয়া স্বপ্নগুলো, 
পর্ন মোচীর দলে, 
ঝরিয়ে দিল অকাল শ্রাবন, 
বাঁচার গল্প বলে। 
খুঁজতে গিয়ে নতুন ভোরে, 
ভুলতে চায় মন যাকে, 
অন্ধকারে হাতড়ে জীবন, 
ফিরে পেলনা সেই রাথটাকেই। 
-----------------------------------------------------------------------

Comments