सैटेलाइट फोन क्या है? क्यों यह बहुत महंगा है?

सैटेलाइट फोन….. 'सैटेलाइट फोन को सेटफोन के नाम से भी जाना जाता है,ये हमारे फोन्स की तुलना में अलग होते हैं। क्योंकि यह लैंडलाइन या सेल्युलर टावरों की बजाय सैटेलाइट (उपग्रहों ) से सिग्नल प्राप्त करते हैं'। ( चित्र सैटेलाइटफोन ) इनकी खास बात यह होती है कि इनके द्वारा किसी भी स्थान से काॅल किया जा सकता है। यह हर जगह उपयोगी साबित होते हैं चाहे आप सहारा मरुस्थल में ही क्यों न हों। कहा तो यह भी जाता है कि यह पानी के अंदर भी आसानी से सिग्नल प्राप्त कर सकने में समर्थ होते हैं। सेटेलाइट फोन बस थोड़ा स्लो होते हैं (हमारे मोबाइल फोन के मुकाबले) यानी बातचीत के दौरान इसमें थोड़ी सी अड़चनों का सामना करना पड़ सकता है। क्योंकि इनके द्वारा भेजे गए सिग्लन को सेटेलाइट तक जाने और वहां से वापस लौट कर आने में ज्यादा समय लगता है।हालांकि यह कमी बहुत ही नगण्य है। यह ज्यादातर आपदाओं के समय हमे काफी सहायक सिद्ध होते जब हमारे सिस्टम बहुत हद तक ख़राब हो गये होते हैं। क्या हम सेटेलाइट फोन खरीद सकते हैं….. भारत में सैटेलाइट फोन खरीदने के लिए विशेष कानून बनाए गए हैं भारत ही नहीं हर देश में इसके लिए अलग…

Which Is The Safest Country If World War III Happens ! अगर तृतीय विश्व युद्ध होता है तो सबसे सुरक्षित देश कौन सा होगा



 
स्विट्जरलैंड
यह संभवत: सबसे सुरक्षित देश है जहाँ आप परमाणु युद्ध या विश्व युद्ध 3 की घटना के दौरान हो सकते हैं।
ऐसा कहने के पीछे ५कारण निम्नलिखित हैं:
1. भौगोलिक तौर पर सुरक्षित।
  • स्विट्जरलैंड के दक्षिण छोर में उसका बचाव करता स्विट्जरलैंड का अल्पाइन क्षेत्र( स्विस आल्प्स) है।
  • उत्तर में खड़ा जूरा पर्वत स्विट्जरलैंड का उत्तरी हमलों से बचाव कर सकता है।
-20 डिग्री सेल्सियस तापमान और कठिन इलाकों के कारण भारी हताहतों की संख्या के बिना इन पर्वत श्रृंखलाओं को ट्रैक करना असंभव है। साथ ही, पहाड़ियों से लेकर मैदानों तक इतना सैन्य अध्यादेश जुटाना भी एक कठिन कार्य है।

2. स्विट्जरलैंड के पास 72 घंटे के छोटे नोटिस पर 200,000 सैनिकों को जुटाने की क्षमता है।
युद्ध की स्थिति में, स्विस सेना अपनी लगभग पूरी सेना और उपकरण वापस अल्पाइन क्षेत्र में जुटा सकती है। उस क्षेत्र में, स्विस मिलिटरी ने 26,000 से अधिक किलेबंद बंकर और स्थान बनाए हैं, जो उन्हें एक सामरिक लाभ देते हैं।

3. इसके अलावा, देश में हर सड़क, सुरंग, पुल और रेलमार्ग को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि इन्हें कभी भी ध्वस्त किया जा सके ताकि हमलावर इनका उपयोग स्विट्ज़रलैंड के खिलाफ न कर सकें।
यदि शत्रुतापूर्ण शक्ति कभी अल्पाइन क्षेत्र को पार करती है और मैदानी इलाकों के लिए उद्यम करती है, तो स्विस सेना सुरंगों, पुलों और अन्य कनेक्टिंग पॉइंटों को उड़ा सकती है ताकि विपक्षी शक्ति को रोका जा सके।

4. यह दुनिया का एकमात्र देश है जहां अपनी पूरी आबादी को रखने के लिए पर्याप्त संख्या में फॉलआउट शेल्टर हैं।
स्विट्ज़रलैंड में सभी घर जो की 1978 के बाद बनाए गए थे, उनमें परमाणु आश्रय होना अनिवार्य है। ये परमाणु आश्रय 700 मीटर से अधिक के 12 मेगाटन से अधिक के परमाणु विस्फोट के मामले में पूरे परिवार का बचाव कर सकते हैं।

5. स्विट्जरलैंड में 8.6 मिलियन फॉलआउट शेल्टर हैं।
मूल रूप से इसका मतलब यह है कि एक बड़े शरणार्थी के बाढ़ की स्थिति में भी देश में अभी भी हर किसी के लिए पर्याप्त आश्रय है।

Comments