पुरुष लिंग के बारे में चार रोचक तथ्य ! Interesting Facts About Male Gender

अभय गुप्ता (Abhay Gupta)

हर पुरुष और स्त्री के अंदर एक गुप्तांग होता है जिसे सामान्यतः हम लिंग के नाम से जानते हैं। स्त्री के अंदर मौजूद गुप्तांग को योनि और पुरुष के अंदर मौजूद गुप्तांग को लिंग कहते हैं। सेक्स के दौरान जब इन दोनों गुप्तांगों का मिलन होता है तो इससे ही स्त्री का गर्भ ठहर जाता है और वो माँ बन जाती है। आज हम आपको लिंग के बारे में हैरान कर देने वाली बातों को बताएंगे तो ध्यान से इस पोस्ट को पढ़ते रहें। 1. हर देश के लोगों का लिंग एक समान नही होता। किसी का लिंग मोटा और लम्बा होता है तो किसी का लिंग छोटा और पतला। अफ्रीकी देशों के लोगों का लिंग एशिया देशों के लोगों के लिंग से काफी लंबा और मोटा होता है जबकि एशिया देशों के लोगों का लिंग अफ्रीकी देशो के लोगों के लिंग से छोटा और पतला होता है। 2. लिंग की नॉर्मल लंबाई 6 से 13 सेंटी मीटर तक होती है जबकि तनाव की स्थिति में यह 7 से 17 सेंटी मीटर तक हो जाती है। 3. लम्बे लिंग के मुकाबले छोटा लिंग अधिकतर तने होने के कारण ज्यादा लंबा हो जाता है। 4. लिंग का साइज वंश और नश्ल पर भी निर्भर करता है।

विश्व में सबसे अच्छा वेतन किस देश का है ! Which country is the best salary in the world


शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति होगा जो अच्छी सैलरी पाना नहीं चाहता। इस दुनिया में जितने लोग नौकरी कर रहे हैं, वे सब उस जगह जाना चाहते हैं, जहां उन्हें अच्छा पैकेज मिले। अगर आप भी अच्छे पैकेज की इच्छा रखते हैं और दुनिया में कहीं भी काम करने को तैयार हैं तो आइए हम आपको बताते हैं दुनिया के उन मुल्‍कों के बारे में जहां काम करने वालों को सबसे अच्‍छी सैलरी दी जाती है।
लक्समबर्ग: लक्‍समबर्ग एक बहुत छोटा देश है यह जनसंख्‍या और आकार में भी बांकी देशों के मुकाबले में बहुत छोटा है। यहां की अर्थव्‍यवस्‍था बैंकिंग और निवेश पर ज्‍यादा निर्भर होती है। यहां तक कि ये यूनाइटेड स्‍टेट में निवेश फंड सेंटर के रुप में जाना जाता है। कई ऑनलाइन कंपनियां लक्‍समबर्ग से ही दुनिया भर में राज कर रही हैं जैसे कि अमेजन और स्‍काइप। तो वहीं कुछ समय पहले तक लक्‍समबर्ग स्‍टील बनाने में सबसे आगे था। यहां पर औसत सैलरी दुनिया में सबसे ज्‍यादा $61511 है।
इन देशों के लोगों को मिलता हैं सबसे ज्यादा सैलरी
फ्रांस- यहां एक सामान्य व्यक्ति घंटे के हिसाब से लगभग 550 रुपए कमाता है।
लक्जमबर्ग- यहां कानूनी रुप से काम करने वाला व्यक्ति घंटे के हिसाब से 600 रुपए कमाता है, जिसके तहत हफ्ते में 40 घंटे काम के हिसाब से लगभग डेढ़ लाख रुपए बनते हैं।
ऑस्ट्रेलिया- घंटे के हिसाब से 600 और हफ्ते में 38 घंटे काम करके यहां एक व्यक्ति सप्ताह में 22 लाख का वेतन पाता है।
नीदरलैंड्स- यहां हफ्ते में 40 घंटे काम के हिसाब से डेढ़ लाख का वेतन बनता है, जो महीने के हिसाब से लगभग 6 लाख से भी अधिक हो जाता है।
भविष्य में सबसे ज्यादा सैलरी दिलाने वाले ये प्रोफेशन
फोर्ब्स मैगजीन के अनुसार आने वाले समय में कुछ ऐसे प्रोफेशन रहेंगे जो सबसे ज्यादा फलेंगे-फूलेंगे और उनमें वेतन सबसे अधिक मिलने की संभावना है। इनमें सबसे पहले नंबर पर सर्जन हैं, जिनकी सालाना आय 2-3 करोड़ रुपए होगी। इनके अलावा कॉरपोरेट एक्जीक्यूटिव, पेट्रोलियम इंजीनियर, फार्मासिस्ट और डाटा साइंटिस्ट जैसे विकल्प वेतन के मामले में सबसे ऊंचाई पर रहेंगे।

Comments