पहली बार जब घड़ी का आविष्कार हुआ , दुनिया की पहली घड़ी में समय कैसे मिलाया गया

कहते हैं की हाथ में पहनी हुई घड़ी न सिर्फ इन्सान को समय बताती है बल्कि इन्सान का समय भी बताती है। कंफ्यूज हो गये क्या? कभी आपने सोचा है कि घड़ी जो बिना रुके हर वक़्त चलती रहती है ; कहाँ बनी होगी? सबसे पहले घड़ी में टाइम कैसे सेट किया गया होगा? कहीं वो टाइम गलत तो नहीं ; वरना आज तक हम सब गलत समय जीते आ रहे हैं। इन्ही सब सवालों के साथ आज कुछ घड़ी अपनी घड़ी की बात करते हैं। कई सिद्धांतों पर बनती हैं घड़ियां जैसा की हम सब जानते हैं की घड़ी एक सिम्पल मशीन है जो पूरी तरह स्वचालित है और किसी न किसी तरह से वो हमे दिन का प्रहर बताती है। ये घड़ियाँ अलग अलग सिद्धांतों पर बनती हैं जैसे धूप घड़ी; यांत्रिक घड़ी और इलेक्ट्रॉनिक घड़ी। मोमबत्ती द्वारा समय का ज्ञान करने की विधि जब हम बचपन में विज्ञान पढ़ा करते थे तो आपको याद होगा की इंग्लैंड के ऐल्फ्रेड महान ने मोमबत्ती द्वारा समय का ज्ञान करने की विधि आविष्कृत की। उसने एक मोमबत्ती पर, लंबाई की ओर समान दूरियों पर चिह्र अंकित कर दिए थे। प्रत्येक चिह्र तक मोमबत्ती के जलने पर निश्चित समय व्यतीत होने का ज्ञान होता था। कैसे देखते थे समय बीते समय में प्राचीन …

दुनिया के वो कौन से देश हैं जहां रात नहीं होती है ! What are the countries in the world where there is no night

हम सभी बचपन से यही जानते हे के पुरे दुनिया में रात और दिन एक तरह से होती हे किसीका देश का आगे यह थोडा बाद में . मगर क्या आपको पता हे कुछ ऐसे भी जगह हे जहा रात नही होती . जी हाँ दोस्तों यह सच हे ...चैलिये जानते हे वो कोनसी जगहा हे . 
 1. नॉर्वे- यहां के लोकल नागरिक इसे मध्य रात्रि का देश भी कहते हैं यह आर्कटिक सर्कल के तहत आता है इस देश में मई से लेकर जुलाई के बीच लगभग 76 दिनों तक सूरज चमकता रहता है रहता है
2. स्वीडन- इस देश में सूरज बदस्तूर 100 दिनों तक अस्त नहीं होता मई से लेकर अगस्त तक यहां 73 दिनों तक लगातार यहां सूरज नहीं डूबता है
3. अलास्का- अलास्का के ग्लेशियर सैलानियों का दिल चुरा लेते हैं यहां मई से लेकर जुलाई के बीच सूरज नहीं डूबता है
4. फिनलैंड- खूबसूरत झीलें फिनलैंड की खूबसूरती को दोगुना कर देती हैं गर्मी के दिनों में यहां 73 दिनों तक लगातार सूरज चमकता रहता है सैलानियों के लिए काफी अच्छा ऑप्शन है
5. कनाडा- इस देश में काफी लंबे समय तक बर्फ का साम्राज्य छाया रहता है लेकिन इसके उत्तरी पश्चिमी भाग लगभग 50 दिनों तक सूरज अस्त नहीं होता है
6. आईसलैंड-यह यूरोप का दूसरे नंबर का बड़ा द्वीप है सैलानी यहां रात के समय भी सूर्य के प्रकाश का लुत्फ उठा सकते हैं 10 मई से लेकर जुलाई माह तक यहां सूरज अस्त नहीं होता है

Comments