भारतीय रेल का सबसे 10 अच्छा स्टेशन ! Top 10 Best Stations of Indian Railways

भारतीय रेल के पास 66,687 किमी का रनिंग ट्रैक है जिसमे कारण यह विश्व की चौथी सबसे बड़ी रेलवे कहलाती है। भारतीय रेलवे के कुछ रेलवे स्टेशन अपने स्थापत्य और प्राकृतिक खूबसूरती के लिए भी जाने जाते हैं। आइये बात करते हैं,ऐसे ही खूबसूरत स्टेशनों के बारे में 

1-विजयवाडा रेलवे स्टेशन ,आंध्रप्रदेश  (Vijayawada Junction)- में सन् 1888 में बना ये रेलवे स्टेशन साउथ इंडिया के सबसे व्यस्त स्टेशनों में से एक है। इसे  2007 में A1 स्टेशन का दर्जा दिया गया है।

2-चार बाग रेलवे स्टेशन ,लखनऊ,यूपी-शायद (Charbagh Railway Station)ये भारतीय रेलवे का सबसे खूबसूरत रेलवे स्टेशन है । चारबाग असल में मुगल स्थापत्य की एक खासियत है,जिसमें चार बाग होते हैं। यह राजपूत,अवधी और मुगल स्थापत्य का नमूना है। इसकी सबसे खास बात इसका ऐरियल व्यू है,जिससे यह चेस के बोर्ड जैसा लगता है।


3-छत्रपति शिवाजी टर्मिनस , मुम्बई (Chhatrapati Shivaji Maharaj Terminus)- इस स्टेशन के महत्व को इस बात से समझा जा सकता है कि इसे यूनेस्को ने विश्व हैरिटेज साइट के रूप में में मान्यता दी है। इसे 1887 में बनाया गया था, तब इसका नाम विक्टोरिया टर्मिनस था ,जो…

प्लास्टिक के बारे में रोचक बातें ! Interesting facts about plastic

प्लास्टिक की दुनिया बहुत बड़ी हैं। आजकल प्लास्टिक का उपयोग हर जगह हो रहा हैं। प्लास्टिक पर्यावरण के लिए खतरा बना हुआ हैं। प्लास्टिक शब्द की उत्पत्ति ग्रीक भाषा के प्लास्तिकोज़ शव्द से हुई है, जिसका अर्थ है बनाना। 



प्लास्टिक का आविष्कार सन 1862 में इंग्लैंड के अलेक्जैन्डर पार्केस (Alexander Parkes) ने किया था। एक प्लास़्टिक की बोतल recycle करने से इतनी ऊर्जा बचाई जा सकती हैं कि एक 60W का बल्ब 6 घंटे तक जल सके। प्लास़्टिक की आधी वस्तुएँ (50 प्रतिशत) हम सिर्फ एक बार काम में लेकर फेंक देते हैं। 













पूरी दुनिया के कुल तेल का 8 प्रतिशत प्लास़्टिक के उत्पादन में लग जाता हैं। हर साल पूरे विश्व में इतना प्लास़्टिक फेंका जाता है कि इससे पूरी पृथ्वी के चार घेरे बन जाएं। एक Plastic Bags अपने वजन से 2000 गुना ज्यादा बोझ उठा सकता हैं। हर साल लगभग 1 लाख पशु प्लास़्टिक बैग के कारण मर जाते हैं। Plastic Bags को खत्म होने में लगभग 1,000 साल लगते हैं। भारत में हर साल प्रत्येक व्यक्ति द्वारा लगभग 9.7 किलो प्लास़्टिक उपयोग में लाया जाता हैं। जबकि अमेरिका में प्रति व्यक्ति 109 किलो। पूरे विश्व में सिर्फ रवांडा ही ऐसा देश हैं जहाँ प्लास़्टिक पूरी तरह से बैन हैं। सबसे ज़्यादा प्लास़्टिक समुद्र में फेंका जाता हैं जो की भविष्य में बहुत हानिकारक हो सकता हैं। Plastic2Oil एकमात्र ऐसी कंपनी हैं, जो प्लास्टिक को दोबारा तेल में बदलने का दावा हैं। Starbucks Cups कभी भी रिसायकल नहीं होते क्योंकि उनके अंदरी भाग में प्लास़्टिक होता हैं। हर साल अमेरिका में करीब 6000 लोग प्लास़्टिक पैकेजिंग खोलते हुए घायल हो जाते है और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया जाता हैं। सेलफोन में इस्तमाल की जाने प्लास़्टिक असली प्लास़्टिक नहीं है यह एक प्रकार का सेल्यूलोस होता है जो अगर जमीन में गाढ़ दिया जाये तो 3 महीने में नष्ट हो जाता हैं। जब भी हम नयी कार लेते है तो उसमें से एक अजीब प्रकार की गंध आती है यह गंध असल में प्लास़्टिक का प्लास्टिकिजेर्स है जो अधिक मात्रा में इस्तेमाल करने से गंध छोड़ता हैं। बीजिंग में यात्रियों से सब वे में जाने के लिए टिकट की जगह इस्तेमाल की गयी प्लास़्टिक की बॉटल ली जाती है जिस से उन बॉटल्स को दुबारा से इस्तेमाल में लाया जा सकें। हमारा शरीर Plastic Chemical को अपने अंदर सोखता हैं 6 साल से ऊपर के 93% अमेरिकियों में प्लास्टिक कैमिकल BPA पाया गया हैं। अमेरिका में हर 5 second में 60,000 plastic bag यूज किए जाते हैं। Finland में, 10 में से 9 प्लास़्टिक बोत्तल recycle की जाती हैं। 6 अरब किलो कूड़ा हर साल समुद्र में फेंका जाता हैं इसमें अधिकतर प्लास्टिक होता हैं। पानी की बोतल पर जो expiry date लिखी होती हैं, वह बोतल के लिए होती हैं न कि पानी के लिए। पिछले 10 सालों में हम इतनी प्लास़्टिक बना चुके हैं जितनी उससे पहले तक नही बनी थी। हर साल दुनिया में 500 खरब Plastic Bags प्रयोग होते हैं इसका मतलब हैं हर मिनट 20 लाख प्लास़्टिक बैग। प्लास्टिक Non Biodegradable होता हैं, ये ऐसे पदार्थ होते हैं जो बैक्टीरिया के द्वारा ऐसी अवस्था में नही पहुंच पाते जिससे पर्यावरण को कोई नुकसान न हो।

Comments