अनोखे और रोचक तथ्य ! Unique and interesting facts

अगर आप “Goldfish” को अंधेरे कमरे में रखोगे, तो ये अपना रंग खो देगी.
अमेरिका का झंडा एक school project के लिए 17 साल के बच्चे ने डिज़ाइन किया था. जिसमें उसको सिर्फ B- मिला. “Anatidaephobia” उस भयंकर डर को कहते हैं,
जब आपको लगता है कि कही, कोई बत्तक आप पर नज़र रख रहा हैं. 2022 में Mars (मंगल ग्रह) पर एक trip जाएगी, जिसके लिए अभी से 1 लाख लोगो ने apply कर रखा हैं. इनके वापिस आने की कोई गारंटी भी नही.

शरीर पर अधिक बाल होना, बुद्धिमता से जुड़ा हुआ हैं.
जापान में गोद लिए गए 98% बच्चे लड़के होते हैं.
क्योकिं ये बाद में बिजनेस में सहायता करते हैं.
 महिलाएं अपनी जिंदगी का एक साल तो ये decide करने में लगा देती हैं कि क्या पहने.
 हर साल शार्क द्वारा 12 मनुष्य मारे जाते हैं, जबकि हर घंटे मनुष्य द्वारा 11,417 शार्क मारी जाती हैं.
रोज़ 1 can soda पीने से आपको 2 types के Diabeties होने के चांस 22% तक बढ़ जाते हैं.
लोग सबसे ज्यादा creative रात में होते हैं और सबसे कम creative दोपहर में होते हैं.
 एक भारतीय आदमी ने यह दावा किया है कि उसने 70 साल तक न तो कुछ खाया हैं और न ही कुछ पिया हैं,कई test …

Facebook ने बदल दी है पॉलिसी, मैसेज में कुछ भी भेजने से पहले यह रिपोर्ट पढ़ें





अगर आपको भी दंगा भड़काने और उल्टे-सीधे मैसेज फेसबुक पर भेजने की आदत है तो सावधान हो जाइए। डाटा लीक होने के बाद से ही Facebook लगातार अपनी पॉलिसी का रिव्यू कर रहा है। पहले कंपनी ने फेसबुक ऐप में प्राइवेसी के लिए अलग से एक बटन दिया और वहीं अब कंपनी ने कहा है कि वह फेसबुक मैसेंजर में शेयर होने वाले सभी मैसेज को स्कैन करेगी और अगर कुछ आपत्तिजनक या कंपनी के नियमों के खिलाफ पाया जाता है तो उसे ब्लॉक किया जाएगा।

मार्क जुकरबर्ग ने इसकी जानकारी हाल ही में एक इंटरव्यू में दी है। उन्होंने कहा कि फेसबुक उन लोगों को ट्रैक करेगा जो सनसनी फैलाने वाले मैसेज या कंटेंट को फेसबुक मैसेंजर में भेजते हैं।वहीं ट्वीटर पर कुछ लोगों ने फेसबुक के इस नियम पर सवाल उठाते हुए कहा है कि इसका मतलब यह है कि फेसबुक मैसेज को पढ़ेगा।

इस पर फेसबुक ने कहा है कि कंपनी मैसेज को इस्तेमाल विज्ञापन के लिए नहीं करेगी, बल्कि उसका मकसद सिर्फ आपत्तिजनक सामग्री को फैलने से रोकना है। दरअसल मैसेजेंर में शेयर वाले फोटो और वीडियो को कंपनी फोटो मैचिंग टेक्नोलॉजी की मदद से स्कैन करेगा ताकि वायरस और आपत्तिजनक कंटेंंट पर रोक लगाई जा सके।

Comments