दुनिया की रोचक बातें ! Interesting Facts About World

इस दुनिया में इतनी तरह के सेब है कि हर दिन हम एक खाएं, तो 20 सालों में भी उनकी संख्या पूरी नही होगी। विदेशों में कमाने वाले भारतीय कामगार हर साल 1 लाख करोड़ अमेरिकी डॉलर कमाते है, जिसमें वे 30 हजार करोड़ बचाकर भारत भेजते हैं। अगर आप दिन में 11 घंटे कुर्सी पर बैठे रहते हैं तो आने वाले 3 सालों में आपकी मृत्यु के चांस 50% बढ़ जाते हैं। 3 से 4 साल की उम्र से बच्चे सपने देखना शुरू करते हैं। दाएं हाथ वाले व्यक्ति अपना खाना बाईं तरफ से खाते हैं। एल्बर्ट आइंस्टीन का मानना था कि अगर धरती से सारी मधुमक्खियां चली जाए तो इंसान अगले 4 सालों में मर जाएगा। रात को सोने से पहले एक गिलास दूध के साथ सौंठ का सेवन करे, शरीर का दर्द गायब हो जाएगा। शोर की वज़ह से हमारी आंखों की पुतलियाँ चौड़ी हो जाती हैं। सर को जोर-जोर से हिलाने पर आपके शरीर का अधिकतर हिस्सा सो जाता है, केवल दिमाग काम कर रहा होता हैं। आलसी लोगो की मृत्यु स्मोकिंग करने वालों की तुलना में जल्दी होती हैं। वैज्ञानिकों की मानें तो इंसान के स्वस्थ्य बाल आवाज़ करते हैं। बच्चा बिना घुटने की टोपी के पैदा होता है. यह 2 से 6 साल की …

Facebook ने बदल दी है पॉलिसी, मैसेज में कुछ भी भेजने से पहले यह रिपोर्ट पढ़ें





अगर आपको भी दंगा भड़काने और उल्टे-सीधे मैसेज फेसबुक पर भेजने की आदत है तो सावधान हो जाइए। डाटा लीक होने के बाद से ही Facebook लगातार अपनी पॉलिसी का रिव्यू कर रहा है। पहले कंपनी ने फेसबुक ऐप में प्राइवेसी के लिए अलग से एक बटन दिया और वहीं अब कंपनी ने कहा है कि वह फेसबुक मैसेंजर में शेयर होने वाले सभी मैसेज को स्कैन करेगी और अगर कुछ आपत्तिजनक या कंपनी के नियमों के खिलाफ पाया जाता है तो उसे ब्लॉक किया जाएगा।

मार्क जुकरबर्ग ने इसकी जानकारी हाल ही में एक इंटरव्यू में दी है। उन्होंने कहा कि फेसबुक उन लोगों को ट्रैक करेगा जो सनसनी फैलाने वाले मैसेज या कंटेंट को फेसबुक मैसेंजर में भेजते हैं।वहीं ट्वीटर पर कुछ लोगों ने फेसबुक के इस नियम पर सवाल उठाते हुए कहा है कि इसका मतलब यह है कि फेसबुक मैसेज को पढ़ेगा।

इस पर फेसबुक ने कहा है कि कंपनी मैसेज को इस्तेमाल विज्ञापन के लिए नहीं करेगी, बल्कि उसका मकसद सिर्फ आपत्तिजनक सामग्री को फैलने से रोकना है। दरअसल मैसेजेंर में शेयर वाले फोटो और वीडियो को कंपनी फोटो मैचिंग टेक्नोलॉजी की मदद से स्कैन करेगा ताकि वायरस और आपत्तिजनक कंटेंंट पर रोक लगाई जा सके।

Comments