What should every Indian know about China?

China is thrice the size of India at about 9.6 million sq. km vs. 3.2 million sq. km with only a little more population than ours.Historically, the Chinese name for India was Tianzhu - meaning heaven. In return, Indians called them by chin (after their most glorious empire - Qin) that eventually got caught by rest of the world now.Although Indians incessantly talk & compare with China, the Chinese understandably don't compare themselves with India. It is because they want to emulate/compare themselves with Europe/US than a poorer country they have beaten in race since 1978. http://www.nytimes.com/2011/09/0... (everyone wants to be compared with someone better than them).Just like how we say Namaste (with folded hands), Chinese traditional greeting comprises of bowed head and folded palms.
Whether it be gold buying, sending students abroad, scouting for resources in Africa/Latin America or wooing foreign investors both India and China compete vigorously to rank in 1 or…

World's Most Mysterious Places !! दुनिया की सबसे रहस्यमय जगह

World's Most Mysterious Places !! दुनिया की सबसे रहस्यमय जगह






ये दुनिया न सिर्फ़ खूबसूरत है, बल्कि रहस्यों से भरी हुई भी है. भले ही दुनिया की कुछ चीज़ें इतिहास के पन्नों में कैद होकर रह गई हों, लेकिन उनके अवशेष आज भी उनकी खूबसूरती की गाथा गाते हैं. दरअसल, चीज़ों की सुंदरता का बखान सिर्फ़ वर्तमान ही नहीं, बल्कि भविष्य भी करता है. आज हम आपको दुनिया भर के ऐसे आश्चर्यजनक, अद्भुत और खूबसूरत खंडहर और स्मारकों का दीदार करवाएंगे, जिनके रहस्यों को जान पाना इस वैज्ञानिक युग में भी संभव नहीं हो पाया है.

1. Georgia Guidestones










पूर्वोत्तर जॉर्जिया में एक बंजर पहाड़ी पर दुनिया का सबसे विचित्र, बड़ा और रहस्यमयी स्मारक मौजूद है. इस स्मारक को पूरी दुनिया में 'Georgia Guidestones' के नाम से जाना जाता है. इसकी ऊंचाई 16 फीट है और उसके ऊपर 20 टन वजन के पत्थर रखे गए हैं. खास बात ये है कि ग्रेनाइट से पॉलिश किये गए इन पत्थरों पर 8 भाषाओं में कुछ ना कुछ लिखा है, जिनमें हिंदी भी शामिल है. ऐसा माना जाता है कि ये स्मारक सूर्य-ग्रहण, चंद्र-ग्रहण और सूर्य और पृथ्वी की घूर्णन की जानकारी देता है. हालांकि, इसकी सत्यता पर अब भी रहस्य बरकरार है.

2. Underwater Ruins, Japan





जापान में Yonaguni के दक्षिणी तट के पास कुछ नष्ट हुए पुराने खंडहर हैं. ये तकरीबन 8 हज़ार साल पुराने बताये जाते हैं. वहां के स्थानीय लोगों के मुताबिक, इसे बनाने के पीछे कोई भौगोलिक कारण था. साल 1995 में एक गोताखोर ने इसको ढूंढ निकाला था और उसकी तस्वीरें कैमरे में कैद कर ली थीं. इसकी बनावट, नक्काशी और जटिल सीढ़ियों को देख कर यह माना जाता है कि इसका निर्माण प्राचीन काल में ही कराया गया होगा.

3. Submerged Wonders of Alexandria, Egypt










क्लियोपेट्रा शहर का निर्माण इजिप्ट के शासक रहे अलेक्जेंडर द ग्रेट ने किया था. इस जगह पर राजसी कलाकृतियों के अनेक खंडहर पाये गये हैं. ऐसा अनुमान है कि करीब 1500 साल पहले ये शहर जलमग्न हो गया था. ऐसा बताया जाता है कि चर्चित सुंदरी व साम्राज्ञी क्लियोपेट्रा की याद में इस शहर को बनाया गया था. हालांकि, अब इस खंडहर को देखने के लिए वाटर म्यूज़ियम भी शुरू कर दिया गया है. इस अद्भुत चीज़ को देखने के लिए लोग आते रहते हैं.

4. The Mysterious Stones of Baalbek




Source: National geagraphy

कुछ लोगों का ऐसा मानना है कि सबसे बड़ा रोमन मंदिर रोम या ग्रीस में नहीं, बल्कि लेबनान के Baalbek में बना था. हालांकि, इस मंदिर को Byzantine Emperor Theodosius ने बाद में तुड़वा डाला था, पर अभी भी इसके 54 स्तंभों में से 6 स्तंभ मौजूद हैं. खास बात ये है कि सदियों के बाद भी आज ये खड़े हैं और आप इनको देखकर पूरे मंदिर की ख़ूबसूरती का अंदाज़ा लगा सकते हैं. मंदिर क्यों बना और उसे क्यों तुड़वाया गया इस रहस्य को आज तक कोई भी नहीं जान पाया है.

5. Three Buried Ancient Megalithic Stone Circles, Turkey





तुर्की में सीरिया के सीमाई क्षेत्रों में पत्थरों से बने तीन Circle हैं. ऐसा माना जाता है कि ये भी हज़ारों साल पुराने हैं. इतिहास को टटोलने पर पता चलता है कि इन अजीबोगरीब चीज़ को एक शिकारी समुदाय द्वारा बनवाया गया था. इसके पीछे बाइबिल से जुड़े कई राज़ बताये जाते हैं, जो अभी भी एक राज़ ही है.

6. Easter Island




Source: Wikipedia

Easter Iceland पोलिनेशिया में काफ़ी दूर तक फैला एक ज्वालामुखी द्वीप है, जिसे Rapa Nui या Isla de Pascua के नाम से भी जाना जाता है. यह मानव आकृतियों की मूर्तियों के लिए प्रसिद्ध है. ये करीब 40 फीट लम्बे हैं और लगभग हज़ारों की संख्या में हैं. इनका पूरा शरीर ज़मीन के अंदर इस प्रकार धंसा हुआ है कि बस उनका इंसान जैसा दिखने वाला चेहरा ही सतह पर दिखाई देता है. इसका निर्माण रापनुई लोगों ने करवाया था. ये मूर्तियां, जिन्हें Moai कहा जाता है, इसके संस्थापकों की है. इन पत्थरों पर गज़ब की कलाकारी की गयी है.

7. Stonehenge





स्टोनहेंज दुनिया के बेहतरीन स्मारकों में से एक है. यह Wiltshire में एक प्रागैतिहासिक स्मारक है. इस स्मारक की कहानी और उद्देश्य आज तक रहस्य ही है. ऐसा माना जाता है कि इसका निर्माण 2500 BC में किया गया था. ये बड़े-बड़े पत्थरों की एक वृत्तिय संरचना है. हालांकि, इसके बारे में कोई लिखित अभिलेख नहीं है.

8. Machu Picchu





Machu Picchu को Inca साम्राज्य के सबसे संरक्षित शहरों में से एक माना जाता है. ये चारों ओर से पहाड़ियों से घिरा हुआ है और धरती से काफ़ी ऊंचाई पर है. इसको एक प्रख्यात पुरातत्वविद Hiram Bingham द्वारा 1911 में खोजा गया था. 1450 CE में इसके बनाये जाने की संभावना जताई जाती है. पर्यटकों के लिये इस जगह की बहुत सी इमारतों की मरम्मत भी की गयी है और इसे इस तरह से बनाया गया है कि वे असल में एतिहासिक दिख सकें.

9. ग्रेट जिम्बाब्वे खंडहर




Source: flickr

कुछ लोगों का ऐसा मानना है कि आधुनिक अफ्रीकन देश जिम्बाब्वे का नाम वहां मिले पुराने खंडहरों के नाम पर ही रखा गया है. ग्रेट जिम्बाब्वे खंडहर दक्षिण अफ्रीका में सबसे बड़े और पुराने पाए जाने वाले खंडहरों में से एक है. ऐसा माना जाता है कि 1800 एकड़ में फैले इस खंडहर में करीब 18000 लोग एक साथ रह सकते हैं. हालांकि, इस बात को कोई नहीं जानता कि आखिर यह वीरान क्यों हो गया?

10. Chavin de Huantar Ruins, Peru




Source: ecoworldly

यह खंडहर Machu Picchu की तरह विश्व प्रसिद्ध तो नहीं है, पर इसे भी World Heritage Site में शामिल किया गया है. ऐसा माना जाता है कि Inca साम्राज्य के निवासी Chavin ने इसको डिज़ाइन किया था. शोध के बाद ऐसी बात सामने आई है कि ये जगह पूजा और प्रार्थना करने के लिए बनायी गयी थी.

11. Coral Castle, Monument to Lost Love




Source: abc


भले ही आप इस बात पर विश्वास न करें लेकिन ये सौ फीसदी सच है कि एक आम आदमी ने इस गार्डन को खुद अपने हाथों से बनाया है. ऐसा कहा जाता है कि लातवियन प्रवासी Ed Leedskalnin ने इस गार्डन को अपने प्यार की याद की निशानी के तौर पर बनाया था. उसने इसे 1923 में अपनी शादी वाले दिन से ही बनाना शुरू किया था और इसी में अपनी पूरी ज़िदगी लगा दी थी. हालांकि, इस आदमी के मरने के बाद भी साल 1951 तक इसका निर्माण कार्य चलता रहा. इसे देखकर विशेषज्ञ हैरान होते हैं कि कैसे एक चौथी कक्षा पास आदमी इसे बना सकता है? जबकि कुछ इंजीनियरों का कहना है कि खुद Albert Einstein भी इसे डिज़ाइन नहीं कर पाते.

12. Lake Michigan Stonehenge




Source: gizmodo

मिशिगन लेक अमेरिका में स्थित एक बड़ी झील है. शोधकर्ताओं ने डूबे हुए जहाज का पता लगाने के लिए एक बार जब सोनार यंत्र का प्रयोग किया, तो उन्हें पानी के भीतर जो मिला, उसे देखकर वो आश्चर्यचकित रह गये. उन्हें पानी की सतह पर प्राचीन स्टेनहेंज की तरह 40 फीट की संरचना मिली. उस पर कुछ पत्थरों को व्यवस्थित तरीके से सजाया गया था. ऐसा माना जाता है कि इसका निर्माण दस हज़ार साल पहले किया गया था.



















Comments