भारतीय इतिहास के पांच बड़े गद्दार ! Five big traitors of Indian history

जयचंद
जैसे की हम सब जानते है की पृथ्वीराज चौहान देश के महान राजाओं में से एक थे, उनके शासनकाल में मोह्हमद गौरी ने देश पर कई बार आक्रमण किया पर उनको कोई बड़ी कमियाबी हासिल नहीं हुई. दूसरी तरफ कन्नौज के राका जयचंद पृथ्वीराज से अपनी बेइज्जती का बदला लेना चाहते थे, बाद में उसने मोह्हमद के साथ हाथ मिला लिया और बाद में लड़ाई में उनकी मदद भी की इसका परिणाम ये हुआ की 1192 के तराईन की लड़ाई ने मोहम्मद की जित हुई. मीर जाफर
क्या आप जानते है मीर जाफर ना होता तो हम कभी अंग्रेजो के गुलाम नहीं बन पाते. 1757 के युद्ध में सिराजुद्दौला को हराने के लिए जाफर ने अंग्रेजो की काफी मदद की थी. मीर कासिम
सिराजुद्दौला को हराने के लिए अंग्रेजो ने मीर जाफर का इस्तेमाल किया था बाद में अंग्रेजो ने मीर जाफर को हटाने के लिए मीर कासिम का इस्तेमाल किया, कासिम को राजगद्दी तो मिली पर उनको ये अहसास हो गया की उसने बहुत ही बड़ी गलती की है. मान सिंह
जैसे की हम सभी जानते है की महराणा प्रताप ने कभी भी मुगलों की गुलामी को स्वीकार नहीं किया था पर मान सिंह जैसे गद्दार ने पद के लिए खुद को मुगलों के हाथों बेच दिया. मीर सादि…

दुनिया का सबसे कीमती और खतरनाक गड्ढा !! World's most precious and danger...

दुनिया का सबसे कीमती और खतरनाक गड्ढा

दुनिया का सबसे कीमती और खतरनाक गड्ढा!

ये है दुनिया का सबसे महंगा और कीमती गड्ढा है जिसकी कीमत अरबों रुपयों में है। वास्तव में यह दुनिया का सबसे खतरनाक गड्ढो में से एक है। इस गड्ढे की कीमत है करीब 1133 अरब रुपए। दुनिया का यह सबसे कीमती गड्ढा पूर्वी साइबेरिया में डायमंड सिटी के नाम से मशहूर मीर खान (माइन) में स्थित है।दरअसल, यह गड्ढा रूसी कंपनी अलरोसा का स्वामित्व वाली एक खदान है है। इस खदान की गहराई 1722 फिट है और इस गड्ढे का घेरा करीब साढ़े तीन किलोमीटर का है। इस खदान को इसलिए खतरनाक माना गया है क्योंकि यह आसमान में उड़ रहे हेलीकॉप्टर्स को अपनी तरफ खींच लेता है। मेल ऑनलाइन के लिए रोरी टिंगल लिखती हैं कि इसमें से इतने हीरे निकले कि इनकी बदौलत सोवियत रूस एक खस्ताहाल अर्थव्यवस्था से दुनिया की सुपरपॉवर बन गया।
इस खदान में वर्ष 2004 में ऑपरेशन रोक दिए गए थे। वर्ष 2004 के बाद इस खदान में अंडरग्राउंड टनल लगाए गए। इन अंडरग्राउंड टनल से वर्ष 2014 में 6 मिलियन कैरेट रफ डायमंड मिले। रूसी कंपनी अलरोसा पूरे विश्व में कुल उत्पन्न हीरों की चौथाई संख्या उत्पादित करती है।
इस खान से हर साल औसतन 2 लाख कैरेट हीरे निकलते हैं। जिनकी कीमत लगभग 20 मिलियन पाउंड होती है। इस गड्ढे के आस पास की खदानों में से विश्व के रफ (अनगढ़) डायमंड्स के 23 प्रतिशत हीरे निकलते हैं। इन खदान को तीन रूसी भूगर्भवेत्ताओं ने खोजा था जिन्हें उनकी खोज के लिए सर्वोच्च सम्मान लेनिन पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

Comments